[Download] Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download

 

[Download] Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download

Hello दोस्तों आशा है आप सभी ठीक होंगे और नहीं होंगे तो अभी हम आपको ठीक करते देते है तो चलिए बोलिये मेरे साथ
!!!! जिंदगी झंड बा फिर भी घमंड बा !!!!!!!!

और अगर आप छत्तीसगढ़ में रहते है और 12th के बाद PSC की पढाई कर रहे है तो खुश होकर ताली बजाने का वक्त आ चूका है । क्योकि आज हम आपको  [Download] Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download  देने वाले है ।

उससे पहले हम आपको बता दे की यह PDF , छत्तीसगढ़ में PSC की तैयारी करने  वाले Students के लिए तैयार किया गया है , जिन्होंने दिन और रात एक करके जबरजस्त तैयारी कर रहे है । 

 

[Download] Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download
Image Credit : Amazon.in

 

Hariram Patel Chhattisgarh के बारे में अन्य जानकारिया 

 ( Hariram patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan pdf download ) की गाइड खासकर के पुरे छत्तीसगढ़ coaching  संस्थानों में और विद्यार्थीओ के बीच में प्रशिद्ध  है , Hariram Patel Sir ji  ऐसे ही अनेक विषयो पर किताबे छापती है , जो की बहुत ही रुचिकर होती है ।

संदीप प्रकाशन के प्रिंटिंग का कार्य Bilaspur से होता है , अगर आप चाहे तो आप यहाँ से भी पुस्तके आर्डर  कर सकते है , या आप चाहे तो Online Amazon से भी मांगा सकते है । 

 

Hariram Patel Chhattisgarh कोचिंग संसथान के बारे में 

 Hariram Patel Publications एक ऐसी किताब है जिसमे लिखावट बहुत ही अनोखी होती है , एवं hariram पटेल सर के बारे में क्या बताये उनके बारे में तो सब जानते ही है  , Hariram Patel Publications ki  writings जबरजस्त होती है एवं इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता है की परीक्षाओ में ज्यादातर प्रश्न तो Hariram Patel Publication Books से ही आती है ।

तो आप सबको इस Book को पढ़ कर ही समझ जाना चाहिए की फ़िलहाल छत्तीसगढ़ में PSC की तैयारी करवाने के लिए फ़िलहाल तो से अच्छी कोई पुस्तक सच में है ही नहीं , Hariram Patel पब्लिकेशन, Hindi Medium के साथ साथ English Medium की Books भी छापते है ।

इसलिए हम आपकी मदद के लिए Hariram Patel Publication की Chhattisgarh Vishisth Adhayyan की Book आपको PDF के माध्यम से उपलब्ध करा रहे है ताकि आप इसे आसानी से Download कर लीजियेगा ।

 

Details of this PDF Book

संसथान का नाम  Hariram Patel Publication
PDF का नाम 

Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download

PDF की Size  30 MB
PDF Pages  301 Page

 

Index of This Hariram Patel Vishisth Adhayyan Book

  1. Chhattisgarh ki Nadiya
  2. Rashtriya Rajmarg Chhattisgarh
  3. National park, wildlife sanctuary…
  4. Chhattisgarh ki Chattane ( Bhugarbhik vibhajan )
  5. Chhattisgarh ki Mittiya
  6. Chhattisgarh ka Prakritik Vibhajan
  7. Chhattisgarh me vano ki Sthiti (ISFR-19 Report)
  8. Chhattisgarh me jalvayu
  9. Janjatiya
  10. Tij Tyohar avm parv
  11. Vadya yantra
  12. Bandh, Jalprapat, Audhogik kshetra
  13. Lok mahotsav
  14. Jangarna Chhattisgarh
  15. Chhattisgarh me van
  16. Parvat avm Pahar
  17. Indian budget
  18. 2019 se 2020-21 tak ke yojanaye
  19. Vibhinn suchakank me bharat ka sthan
  20. 2020-21 me chhattisgarh me prapt vibhinn puraskar
  21. Rajya alankaran puraskar
  22. Agami khel
  23. Rajeev gandhi khel ratn, Dhyanchand, Dronacharya puraskar
  24. Chhattisgarh ka arthik sarvekshan
  25. Chhattisgarh ka itihsa ( summary )
  26. Jila Darshan (special maps)
  27. Jangarna Bharat
  28. Sindhu ghati
  29. Bharat ka bhugol (Through Map)-
  30. Dam, Darra, Hill station
  31. National park, biosphere reserves
  32. Fasal, parmanu vidhyut grah
  33. Lok mahotsav avm nritya
  34. Nadi avm parvat shrinkhala
  35. jalprapat,jheel, GI-Tags
  36. Van, khanij tatha anya……….
  37. Governer general vayasarya tatha unke dwara kiye gye karya
  38. Bhartiya darshan
  39. Current affairs

 

To Download Hariram Patel Chhattisgarh Vishisth Adhayyan PDF Download :- Click Below

Download Button for Iamchhattisgarh
Image Credit : Pixabay.com ( Creative commons)

Sandeep publication के द्वारा और भी बहुत सारी किताबे , अन्य अन्य प्रकार के Guide छापी गयी है , जिसे आप चाहे तो Download कर सकते है नहीं तो फिर आप अपने ऐसे दोस्त को भेज सकते है जिन्हे इन सब पुस्तकों की जरुरत होगी , और बिलकुल आसानी से वो लोग भी इसे Download कर लेंगे ।

Disclaimer of IamChhattisgarh.in

Www.IamChhattisgarh.in को केवल Competitive Exams की तयारी करने वाले, ऐसे छात्रों (Students) के लिए बनाया गया है जिनके पास महँगी Books खरीदने के लिए फ़िलहाल पैसे नहीं है , लेकिन वो लोग PDF की फोटो कॉपी करवाकर अपनी पढाई जरूर पूरी कर सकते है। 

अतः इस Website पर उपलबध सभी Ebooks/PDF/Notes/Materials  हमारे  नहीं है इसके मालिक के ही है , इसे हमने ना ही  बनाया है और ना ही Scan किया हुआ है , हमने बस Internet का ही Link लिया हुआ है जो सभी के लिए उपलबध था वही डाला हुआ है, लेकिन फिर भी अगर हमारे इस कार्य से किसी को कोई आपत्ति हो तो बिना संकोच के हमें Comment में बता दे हम इस Post को Delete कर देंगे। 

 

VIP GROUP FOR VIP PEOPLE

 

हमारे द्वारा उपलबध कराये गए Hariram Patel Publication के PDF सबको Dowload कर लेना चाहिए जो इस पुस्तक को खरीदने में समर्थ नहीं है अन्यथा अगर आप इस पुस्तक को खरीद सकते है तो अवस्य ही ख़रीदे, ताकि Hariram Patel Publication वालो को भी कुछ फायदा हो सके , आखिरकार उन्होंने इसे इतने मेहनत से जो छापा है

इस बुक को Download कर लेने के बाद विद्यार्थी को चाहिए की वह अच्छे से मन्नन चिंतन करते हुए इसकी पढाई करे और साथ ही साथ आप जिस भी कोचिंग संसथान में जाते है  वहाँ की पढाई , वहाँ के Notes पर भी ध्यान देते रहे , बाकि एक बात मै बिलकुल गारंटी से कह सकता हु की आपके भी कोचिंग वाले सर ने भी इस बुक की तारीफ जरूर की होगी , है न ? Comment में जरूर बताना ।

आपका हमारे इस PDF को Download करने के लिए , हमें Facebook पर Follow करने के लिए , हमारे Telegram Channel में जुड़ने के लिए ,हमारे Youtube Channel को  Subscribe करने के लिए , हमें Twitter पर Follow करने के लिए , हमें Instagram पर Follow करने के लिए और इस Post को Whatsapp पर Share करने के लिए ।

 

हमारे साथ इतनी देर जुड़े रहने के लिए मै राजवीर सिंह आपका बहुत बहुत धन्यवाद् करता हु। 

 

इन्हे भी पढ़े :-

👉माँ मड़वारानी मंदिर : आखिर क्यों मंडप छोड़ भाग आयी थी माता मड़वारानी 

👉पाताल भैरवी मंदिर : शिव , दुर्गा , पाताल भैरवी एक ही मंदिर में क्यों है ?

👉फणीकेश्वरनाथ महादेव मंदिर : सोलह खम्बो वाला शिवलिंग अपने नहीं देखा होगा !

👉प्राचीन शिव मंदिर : भगवन शिव की मूर्तियों को किसने तोडा , और नदी का सर धार से अलग किसने किया ?

👉प्राचीन ईंटों निर्मित मंदिर : ग्रामीणों को क्यों बनाना पड़ा शिवलिंग ?

Leave a Reply