बस्तर का पठार Bastar Ka Pathar Dandkaranya Ka Pathar Chhattisgarh

बस्तर का पठार Bastar Ka Pathar Dandkaranya Ka Pathar Chhattisgarh

  1. बस्तर का पत्थर को दंडकारण्य का पत्थर भी कहा जाता है .
  2. बस्तर को गोंडो की भूमि कहते है ।
  3. बस्तर को खनिजों का भंडार कहते है ।

शामिल जिला :-

  1. बीजापुर
  2. नारायणपुर
  3. कांकेर
  4. कोंडागांव
  5. बस्तर
  6. दंतेवाड़ा
  7. सुकमा
  8. मोहला मानपुर तहसील
क्षेत्रफल 
  • 39060 वर्ग किमी
निर्माण 
  • धारवाड़  चट्टानों से
 ढाल
  • पश्चिम-दक्षिण  की ओर
खनिज 
  • लोहा, टीन ,ताम्बा,क़्वार्टीज़
फसल 
  • कोदो ,कुटकी
वन 
  • सर्वाधिक सघन  वन
वर्षा 
  • 187 सेमी ( लगबग )
अधिक वर्षा 
  • 400 सेमी लगभग ( अभुझमार में )
  • छत्तीसगढ़ में सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान ।
  • छत्तीसगढ़ का चेरापूंजी , मसिमराम कहते है ।
अपवाह तंत्र 
  • गोदावरी नदी
जलवायु 
  • मानसूनी जलवायु
गर्म स्थान 
  • चाम्पा
जनसँख्या घनत्वा 
  • सर्वाधिक


पर्वत:- 

बैलाडीला 

ऊंचाई

  • दंतेवाड़ा ।
  • नंदिराज ( 1210 मी )
अभुझमार पर्वत 
  • ऊंचाई 1076 मी ( नारायणपुर )
आरी डोंगरी 
  • भानुप्रतापपुर ( कांकेर )
छोटे डोंगर 
  • नारायणपुर
मांझी डोंगर 
  • बस्तर
बड़े डोंगर 
  • दंतेवाड़ा
अल्बका पहाड़ी 
  • बीजापुर

इन्हे जरूर पढ़े :-

👉महानदी बेसिन छत्तीसगढ़ का मैदान

👉छत्तीसगढ़ में जीवो का संरक्षण

👉छत्तीसगढ़ वन संसाधन 

👉जशपुर सामरी पाट प्रदेश

👉सरगुजा बेसिन बघेलखण्ड

Leave a Reply