चंदैनी नृत्य छत्तीसगढ़ | Chandaini Nritya Chhattisgarh | Chandaini Dance Chhattisgarh

Rate this post

चंदैनी नृत्य छःग Chandaini Nritya Chhattisgarh Chandaini Dance

1.चंदैनी नृत्य- छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में लोककथाओं पर आधारित यह एक महत्वपूर्ण लोकनृत्य है।

2.लोरिक-चंदा के नाम से ख्यातिलब्ध चंदैनी मुख्य रूप से एक प्रेमगाथा है . 

3.जिसमें पुरुष पात्र विशेष पहनावे में अनुपम नृत्य के साथ चंदैनी कथा को अत्यंत ही सम्मोहक शैली में प्रस्तुत करते हैं ।

4.जो कि सम्पूर्ण रात्रि तक दर्शकों को सम्मोहित किये रहती है।

5.छत्तीसगढ़ में चंदैनी दो शैलियों में विख्यात है। एक तो  लोककथा के रूप में एवं द्वितीय गीत नृत्य रूप में।

6.चंदैनी नृत्य में मुख्य रूप से ढोलक की संगत एवं टिमकी प्रमुख वाद्य  यंत्र है।

7.छत्तीसगढ़ में चंदैनी नृत्य की ख्याति का आलम यह था कि एक समय दो-तीन लाख जनमानस एक साथ बैठकर इस नृत्य का आनंद उठाया करते थे।

इन्हे जरूर पढ़े :-

👉 करमा नृत्य छत्तीसगढ़

👉  सुआ नृत्य छत्तीसगढ़ 

👉  पंथी नृत्य छत्तीसगढ़

👉  राउत नाचा छत्तीसगढ़ 

👉 ककसार नृत्य छत्तीसगढ़ 

Leave a Comment