छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण तिथि क्रम | Chhattisgarh Rajya Nirman Tithi Kram

मेरे प्यारे दोस्तों आज हम आपको छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण सम्बन्धी तिथि क्रमकी जानकारी देने वाले है। यहाँ जानकारी आपको छत्तीसगढ़ के किसी भी परीक्षा में पूछे जा सकते है , या आप किसी चीज के बारे में रिसर्च करना चाहते है, या आप फिर छत्तीसगढ़ में घूमना चाहते है तो यहाँ जानकारी आपके बहुत ही काम आएगी। इसलिए आप इस लेख को ध्यान से पढ़े और अपनी राय दे।

छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण सम्बन्धी तिथि क्रम

वर्ष राज्य निर्माण सम्बन्धी तिथि क्रम
1861 2 नवम्बर 186। को मध्य प्रांत (Central Provinces) का गठन हुआ। जिसमें छग, मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र शामिल था। जिनकी राजधानी नागपुर तथा छःग. में रायपुर, बिलासपुर एवं संबलपुर जिले का गठन किया गया। 
1862 इस दौरान भध्य प्रांत में 5 संभाग बनाये गये जिसमें छत्तीसगढ़ एक स्वतंत्र संभाग बना जिसका मुख्यालय रायपुर बना। प्रथम कमिश्नर-चार्लस्स सी. इलियट। 
1905 बंगाल विभाजन के दौरान भाषायी आधार पर राज्यों का पुनर्गठन करते हुए संबलपुर को बंगाल प्रांत में तथा 5 रियासतें कोरिया, चांगमखार, सरगुजा, उदयपुर एवं जशपुर को छत्तीसगढ़ में शामिल किया गया और वर्तमान छत्तीसगढ़ राज्य का स्वरूप सामने आया अर्थात्‌ छत्तीसगढ़ का सर्वप्रथम मानचित्र 1905 में बनाया गया। 
1918 पं. सुंदरलाल शर्मा ने छत्तीसगढ़ राज्य. का स्पष्ट रेखाचित्र अपनी पाण्डुलिपि में खींचा अत: इन्हें छत्तीसगढ़ का प्रथम स्वदृष्टा व संकल्पनाकार कहा जाता है। 
1924 रायपुर जिला परिषद्‌ में पृथक छत्तीसगढ़ की मांग की।
1939 पं. सुन्दरलाल शर्मा ने कांग्रेस के त्रिपुरी अधिवेशन में पृथक छत्तीसगढ़ की मांग रखी।

1946
ठा. प्यारेलाल ने पृथक छत्तीसगढ़ के मांग के लिए छत्तीसगढ़ शोषण विरोधी मंच का गठन किया जो छत्तीसगढ़ निर्माण हेतु प्रथम संगठन था
1947 स्वतंत्रता के समय छत्तीसगढ़ मध्यप्रांत व बरार का हिस्सा था। 
1955 रायपुर के विधायक ठा. रामकृष्ण सिंह ने मध्य प्रांत के विधानसभा में पृथक छत्तीसगढ़ की मांग रखी जो प्रथम विधायी प्रयास था।
1956 1 नवम्बर 1956 को म.प्र, के गठन के साथ ही छत्तीसगढ़ को म.प्र. में शामिल किया गया।
1956 डॉ. खूबचंद बघेल ने राजनांदगांव में पृथक छत्तीसगढ़ की मांग हेतु “छत्तीसगढ़ महासभा” का गठन किया जिसके महासचिव दशरथ चौबे थे। 
1967 डॉ. खूबचंद बघेल ने बैरिस्टर छेदीलाल की सहायता से राजनांदगांव में पृथक छत्तीसगढ़ हेतु छत्तीसगढ़ भ्रातृत्व संघ (Brother Hood Association) का गठन किया जिसके उपाध्यक्ष द्वारका प्रसाद तिवारी थे। 
1976 शंकर गुहा नियोगी ने पृथक छत्तीसगढ़ हेतु छ:ग मुक्ति मोर्चा का गठन किया।
1983 शंकर गुहा नियोगी के द्वारा छत्तीसगढ़ संग्राम मंच का गठन किया गया।
1983 पवन दीवान द्वारा पृथक छत्तीसगढ़ पार्टी का गठन किया गया।
1994 तत्कालीन विधायक गोपाल परमार के द्वारा मध्यप्रदेश विधानसभा में पृथक छत्तीसगढ़ निर्माण संबंधी अशासकीय संकल्प प्रस्तुत किया गया जो सर्वसम्मति से पारित हुआ।
1998 मग्न. विधानसभा में पृथक छत्तीसगढ़ निर्माण हेतु शासकीय संकल्प पारित किया गया ।

इन्हे भी पढ़े :-

👉जिंदल रायगढ़ छत्तीसगढ़

👉कांकेर जिला छत्तीसगढ़

👉लक्ष्मण झूला रायपुर छत्तीसगढ़

👉छत्तीसगढ़ के पहाड़ो की ऊंचाई

👉छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण तिथि क्रम 

👉छत्तीसगढ़ शासन के विभिन्‍न भवनों के नाम 

||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||

दोस्तों हो सकता है की इसमें कुछ गलतिया हो सकती है तो आप नीचे Comment में जरूर बताये , साथ ही साथ आप अपने सुझाव भी हमें दे सकते है। दोस्तों आप हमें Facebook, Youtube, Twitter , Linkedin पर भी फॉलो कर सकते है। 

दोस्तों हमारी इस Website Iamchhattisgarh.in पर अगर आप पहली बार आये है तो मै आपको बता देना चाहूंगा की , हमारी इस वेबसाइट पर आपको छत्तीसगढ़ से सम्बंधित सभी जानकारिया जैसे की छत्तीसगढ़ स्थानों, पर्यटन, मंदिरों, इतिहास, अभिलेखागार स्थानों, नदियों और हर वो जानकारी जो हमारे छत्तीसगढ़ से सम्बंधित हो ।

दोस्तों हम धीरे-धीरे  कोशिश करेंगे की जैसे ही छत्तीसगढ़ का Topic ख़त्म हो जाये तो हम इस में पूरा भारत , विश्व, संविधान , इतिहास  सभी जानकारिया आपके लिए लिखेंगे । जो आगे आपको बहुत काम आएगी । 

आप हमारे इस वेबसाइट पर हर तरह की जानकारियों को काटेगोरिएस वाइज पढ़ सकते है:-

Chhattisgarh Tourism :- इसमें आपको हर वो जानकारी दी जाएगी जहा पर आपको छत्तीसगढ़ में घूमने जरूर जाना चाहिए । इसमें वे सभी स्थल होंगे जहा पर आप अपने छुटियो में अपने परिवार सहित घुमने जरूर जाये ,और दुसरो को भी इन जगहों के बारे में बताये की वे भी घूमने जाये , ताकि हमारे राज्य की  इनकम बढ़ सके । 

Chhattisgarh Temples :- छत्तीसगढ़ के सभी मंदिरो के बारे में जानकारिया आपको इस Category में मिल जाएगी ,पुरे छत्तीसगढ़ के एक-एक मंदिर चाहे वो कोई छोटा से छोटा मंदिर हो या बड़ा से बड़ा हमसे नहीं बच सकता ( मजाक था ) है । 

Chhattisgarh History :- छत्तीसगढ़ के वे अनसुने इतिहास जिसे अपने नहीं पढ़ा या नहीं सुना । इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इसी में मिल जाएगी । 

Chhattisgarh Archelogy :- इसमें हम आपको छत्तीसगढ़ के पुरातत्तव की चीजे , पुराने महल , पुराने अभिलेख, आदि सभी चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिलेगी। 

Chhattisgarh Wildlife: छत्तीसगढ़ के जंगल ,जीव , नदिया , तालाब , जलप्रपात , झील ,अदि सभी प्राकृतिक चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिल जाएगी ।  

तो आप इसे शेयर अवस्य करे नहीं तो मै सपने में आपसे शेयर करवाने आऊंगा , क्योकि खुदा की बाते गलत हो सकती है मेरी नहीं । ( मजाक था )

Leave a Reply