फणीकेश्वरनाथ महादेव मंदिर Phanikeshwarnath Mahadev Mandir Fingeshwar

मेरे प्यारे दोस्तों आज हम आपको “फनिकेश्वरनाथ महादेव मंदिर, फिंगेश्वर ,गरियाबंद छत्तीसगढ़” की जानकारी देने वाले है। यहाँ जानकारी आपको छत्तीसगढ़ के किसी भी परीक्षा में पूछे जा सकते है , या आप किसी चीज के बारे में रिसर्च करना चाहते है, या आप फिर छत्तीसगढ़ में घूमना चाहते है तो यहाँ जानकारी आपके बहुत ही काम आएगी। इसलिए आप इस लेख को ध्यान से पढ़े और अपनी राय दे।

फणी केश्वरनाथ महादेव मंदिर | Phanikeshwarnath Mahadev Mandir Fingeshwar Gariyaband Chhattisgarh 

1.धार्मिक महातम्य से युक्त यहाँ प्राचीन स्मारक-स्थल रायपुर से 73 किमी एवं राजिम से 25 किमी दूर महानदी के दाक्षिर तात से 12 किमी दूरी पर स्थित है ।

2.फनिकेश्वरनाथ नामक शिवलिंग प्रमुख मंदिर के गर्भगृह में प्रतिस्थापित है ।

3.यहाँ मंदिर पूर्वाभिमुखी है तथा गर्भगृह एवं मंडप इसके दो अंग है । इसका मंडप षोडश ( सोलह ) स्तम्भों पर आधारित है । मंदिर की द्वार चौखट में नदी देविया प्रदर्शित है ।

4.ऐसा प्रतीत होता है की दोनों भारत वर्ष के मध्य में स्थित छत्तीसगढ़ अंचल पुरातत्वा एवं संस्कृति की दृस्टि से विशेष समृद्ध प्रदेश है । नवीन राज्य निर्माण के पुरवा यहाँ मध्यप्रदेश का अंग था । इसमें रायपुर बिलासपुर एवं  बस्तर संभाग सम्मिलित है ।

5.छत्तीसगढ़ राज्य धार्मिक सांस्कृतिक एवं ऐतिहासिक तथा पुरातत्वातिया दृष्टि से महत्वपूरा है । प्राचीन सांस्कृतिक विरासत की बनगई हमें महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय एवं अन्य संग्रहालयों में सुरक्षित पुरावशेषों एवं कला सामनगरी के अवलोकन करने से प्राप्त होती है ।

6.हमारी भावी पीढ़ी भी अपने गौरवमई विरासत से परिचित हो सकें इस दृष्टि से भविष्य के लिए उन को सुरक्षित बनाए रखने के लिए राज्य शासन के द्वारा पुरातत्व दृष्टि से महत्वपूर्ण 58 स्मारक राज्य संरक्षित स्मारक घोषित किया गया है।

7.यह स्मारक स्थल हमारे गौरवपूर्ण अतीत के साक्ष्य हैं मंदिरों को जोड़ने वाले मंडप का निर्माण मुख्य मंदिर के निर्माण के बाद में हुआ है मंदिर के बाह्य भित्ति पर जंघा भाग में 2 पंक्तियों में राम कथा कथा कृष्ण लीला से संबंधित दृश्य एवं मिथुन दृश्य दृश्य उकेरे  गए हैं।

8.मंडप में रखी वैष्णवी तथा महिषासुरमर्दिनि का खंडित प्रतिमाएं एवं ललितासिन   चतुर्भुजी गणेश की प्रतिमाएं दर्शनीय शिव मंदिर राजिम की पंचकोशी परिक्रमा में सम्मिलित है या स्मारक परवर्ती काल के मंदिर स्थापत्य कला का अच्छा उदाहरण है।

इन्हे भी पढ़े :-

👉 प्राचीन शिव मंदिर : भगवन शिव की मूर्तियों को किसने तोडा , और नंदी  का सर धार से अलग किसने किया ?

👉 प्राचीन ईंटों निर्मित मंदिर : ग्रामीणों को क्यों बनाना पड़ा शिवलिंग ?

👉 चितावरी देवी मंदिर  : शिव मंदिर को क्यों बनाया गया देवी मंदिर ?

👉 शिव मदिर : बाली और सुग्रीव का युद्ध करता हुआ अनोखा मंदिर !

👉 सिद्धेश्वर मंदिर : आखिर त्रिदेव क्यों विराजमान है इस मंदिर पर ?

|||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||

दोस्तों हो सकता है की इसमें कुछ गलतिया हो सकती है तो आप नीचे Comment में जरूर बताये , साथ ही साथ आप अपने सुझाव भी हमें दे सकते है। दोस्तों आप हमें Facebook, Youtube, Twitter , Linkedin पर भी फॉलो कर सकते है। 

दोस्तों हमारी इस Website Iamchhattisgarh.in पर अगर आप पहली बार आये है तो मै आपको बता देना चाहूंगा की , हमारी इस वेबसाइट पर आपको छत्तीसगढ़ से सम्बंधित सभी जानकारिया जैसे की छत्तीसगढ़ स्थानों, पर्यटन, मंदिरों, इतिहास, अभिलेखागार स्थानों, नदियों और हर वो जानकारी जो हमारे छत्तीसगढ़ से सम्बंधित हो ।

दोस्तों हम धीरे-धीरे  कोशिश करेंगे की जैसे ही छत्तीसगढ़ का Topic ख़त्म हो जाये तो हम इस में पूरा भारत , विश्व, संविधान , इतिहास  सभी जानकारिया आपके लिए लिखेंगे । जो आगे आपको बहुत काम आएगी । 

आप हमारे इस वेबसाइट पर हर तरह की जानकारियों को काटेगोरिएस वाइज पढ़ सकते है:-

Chhattisgarh Tourism :- इसमें आपको हर वो जानकारी दी जाएगी जहा पर आपको छत्तीसगढ़ में घूमने जरूर जाना चाहिए । इसमें वे सभी स्थल होंगे जहा पर आप अपने छुटियो में अपने परिवार सहित घुमने जरूर जाये ,और दुसरो को भी इन जगहों के बारे में बताये की वे भी घूमने जाये , ताकि हमारे राज्य की  इनकम बढ़ सके । 

Chhattisgarh Temples :- छत्तीसगढ़ के सभी मंदिरो के बारे में जानकारिया आपको इस Category में मिल जाएगी ,पुरे छत्तीसगढ़ के एक-एक मंदिर चाहे वो कोई छोटा से छोटा मंदिर हो या बड़ा से बड़ा हमसे नहीं बच सकता ( मजाक था ) है । 

Chhattisgarh History :- छत्तीसगढ़ के वे अनसुने इतिहास जिसे अपने नहीं पढ़ा या नहीं सुना । इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इसी में मिल जाएगी । 

Chhattisgarh Archelogy :- इसमें हम आपको छत्तीसगढ़ के पुरातत्तव की चीजे , पुराने महल , पुराने अभिलेख, आदि सभी चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिलेगी। 

Chhattisgarh Wildlife: छत्तीसगढ़ के जंगल ,जीव , नदिया , तालाब , जलप्रपात , झील ,अदि सभी प्राकृतिक चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिल जाएगी ।  

Leave a Reply