दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh

मेरे प्यारे दोस्तों आज हम आपको दंतेश्वरी मंदिर, दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़ की जानकारी देने वाले है। यहाँ जानकारी आपको छत्तीसगढ़ के किसी भी परीक्षा में पूछे जा सकते है , या आप किसी चीज के बारे में रिसर्च करना चाहते है, या आप फिर छत्तीसगढ़ में घूमना चाहते है तो यहाँ जानकारी आपके बहुत ही काम आएगी। इसलिए आप इस लेख को ध्यान से पढ़े और अपनी राय दे।

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ Danteshwari Mandir Chhattisgarh
दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़

Danteshwari Mandir, Dantewara Chhattisgarh | दंतेश्वरी मंदिर, दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़

वैसे तो देवी पुराण में 51 शक्तिपीठों का ही जिक्र है, लेकिन कुछ स्थानीय मान्यताएं अलग कहानी कहती हैं। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा के दंतेश्वरी माता मंदिर को 52वां शक्तिपीठ भी गिना जाता है।

मान्यता है कि यहां देवी सती का दांत गिरा था। इसी पर इस इलाके का नाम दंतेवाड़ा पड़ा। इस मंदिर को लेकर कई तरह की कहानियां और किवदंतियां यहां प्रसिद्ध हैं।

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh
दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़

पौराणिक कथा:-

मान्यता अनुसार बस्तर के पहले काकातिया राजा अन्नम देव वारंगल से यहां आए थे। उन्हें दंतेवश्वरी मैय्या का वरदान मिला था। अन्नम देव को माता ने वर दिया था कि जहां तक वे जाएंगे, उनका राज वहां तक फैलेगा लेकिन इस पर शर्त ये थी कि राजा को पीछे मुड़कर नहीं देखना होगा|

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh
दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़

और मैय्या उनके पीछे-पीछे जहां तक जाती, वहां तक की जमीन पर उनका राज हो जाता। शर्त के अनुसार जहां अन्नम देव के रूकता वहीं मैय्या ने भी रूक जाना था। अन्नम देव ने चलना शुरू किया और वे कई दिन और रात चलते रहे। वे चलते-चलते शंखिनी और डंकनी नदियों के संगम पर पहुंचे।

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh
दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़

यहां उन्होंने नदी पार करने के बाद माता के पीछे आते समय उनकी पायल की आवाज महसूस नहीं की। सो वे वहीं रूक गए और माता के रूक जाने की आशंका से उन्होंने पीछे पलटकर देख लिया। माता तब नदी पार कर रही थी।

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh
Danteshwari mata mandir ke andar ka shivling

राजा के रूकते ही मैय्या भी रूक गई और उन्होंने आगे जाने से इनकार कर दिया। दरअसल नदी के जल में डूबे पैरों में बंधी पायल की आवाज पानी के कारण नहीं आ रही थी और राजा इस भ्रम में कि पायल की आवाज नहीं आ रही है, शायद मैय्या नहीं आ रही है सोचकर पीछे पलट गए।

दंतेश्वरी मंदिर छत्तीसगढ़ | Danteshwari Mandir Chhattisgarh
Danteshwari mata ki murti

वचन के अनुसार मैय्या के लिए राजा ने शंखिनी और डंकनी नदी के संगम पर एक सुंदर घर यानि मंदिर बनवा दिया। तब से मैय्या वहीं स्थापित है। दंतेश्वरी मंदिर के पास ही शंखिनी और डंकनी नदी के संगम पर मां दंतेश्वरी के चरणों के चिन्ह मौजूद है और यहां सच्चे मन से की गई मनोकामनाएं अवश्य पूर्ण होती है।

 

||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||

दोस्तों हो सकता है की इसमें कुछ गलतिया हो सकती है तो आप नीचे Comment में जरूर बताये , साथ ही साथ आप अपने सुझाव भी हमें दे सकते है। दोस्तों आप हमें Facebook, Youtube, Twitter , Linkedin पर भी फॉलो कर सकते है। 

दोस्तों हमारी इस Website Iamchhattisgarh.in पर अगर आप पहली बार आये है तो मै आपको बता देना चाहूंगा की , हमारी इस वेबसाइट पर आपको छत्तीसगढ़ से सम्बंधित सभी जानकारिया जैसे की छत्तीसगढ़ स्थानों, पर्यटन, मंदिरों, इतिहास, अभिलेखागार स्थानों, नदियों और हर वो जानकारी जो हमारे छत्तीसगढ़ से सम्बंधित हो ।

दोस्तों हम धीरे-धीरे  कोशिश करेंगे की जैसे ही छत्तीसगढ़ का Topic ख़त्म हो जाये तो हम इस में पूरा भारत , विश्व, संविधान , इतिहास  सभी जानकारिया आपके लिए लिखेंगे । जो आगे आपको बहुत काम आएगी । 

आप हमारे इस वेबसाइट पर हर तरह की जानकारियों को काटेगोरिएस वाइज पढ़ सकते है:-

Chhattisgarh Tourism :- इसमें आपको हर वो जानकारी दी जाएगी जहा पर आपको छत्तीसगढ़ में घूमने जरूर जाना चाहिए । इसमें वे सभी स्थल होंगे जहा पर आप अपने छुटियो में अपने परिवार सहित घुमने जरूर जाये ,और दुसरो को भी इन जगहों के बारे में बताये की वे भी घूमने जाये , ताकि हमारे राज्य की  इनकम बढ़ सके । 

Chhattisgarh Temples :- छत्तीसगढ़ के सभी मंदिरो के बारे में जानकारिया आपको इस Category में मिल जाएगी ,पुरे छत्तीसगढ़ के एक-एक मंदिर चाहे वो कोई छोटा से छोटा मंदिर हो या बड़ा से बड़ा हमसे नहीं बच सकता ( मजाक था ) है । 

Chhattisgarh History :- छत्तीसगढ़ के वे अनसुने इतिहास जिसे अपने नहीं पढ़ा या नहीं सुना । इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इसी में मिल जाएगी । 

Chhattisgarh Archelogy :- इसमें हम आपको छत्तीसगढ़ के पुरातत्तव की चीजे , पुराने महल , पुराने अभिलेख, आदि सभी चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिलेगी। 

Chhattisgarh Wildlife: छत्तीसगढ़ के जंगल ,जीव , नदिया , तालाब , जलप्रपात , झील ,अदि सभी प्राकृतिक चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिल जाएगी ।  

Leave a Reply