छत्तीसगढ़ में संचार | Chhattisgarh me Sanchar | Communication in Chhattisgarh

2/5 - (3votes)

छत्तीसगढ़ में संचार | Chhattisgarh me Sanchar | Communication in Chhattisgarh

संदेश को एक स्थान से दूसरे स्थान पहुंचाना ही संचार है। संचार 6 प्रकार से हो सकता है ।

1. आकाशवाणी (रेडियो)

2. दूरदर्शन (T.V. )

3. डाक तार (चिट्ठी)

4. दूर संचार (टेलीफोन)

5. समाचार पत्र (अखबार)

6. सिनेमा (टॉकिज )

 

1.आकाशवाणी केन्द्र:-

1.रायपुर (प्रथम):-02-10-1963

2.अम्बिकापुर (द्वितीय) :- 20-12-1976

3.जगदलपुर (तृतीय):-1977

नोट :1. 1991 में FM रेडियों की शुरूआत रायपुर से हुई।

        2. FM फिक्वेंशी माड्युलेट

            MW मीडियम वेब


उच्च शक्ति ट्रांसमीटर

1.रायपुर

2.जगदलपुर

3.अंबिकापुर 

नोट:- निम्न शक्ति ट्रांसमीटर 13 शहरों में स्थापित है।


2.दूरदर्शन:-

  • 1972-73 में दूरदर्शन की शुरूआत रायपुर से हुई। 
  • 15-8-1982 मे रंगीन T.V. की शुरूआत रायपुर से हुई। 
  • अब एन्टीना नहीं छत में तवा लगा रहता है, क्योंकि अब T.V. सेटेलाईट से चलता है। 

3.डाक तार:-

  • छ.ग. में प्रथम डाकतार 1965 में रायपुर से स्थापित हुआ था। 
  • छ.ग. का प्रथम पोस्ट मास्टर कैप्टन स्मिथ 
  • छ.ग. में कुरियर सेवा भी है। 

4.समाचार पत्र:-

छत्तीसगढ़ मित्र :-

  • छ.ग. का प्रथम समाचार पत्र है।
  • यह 1900 में पेंड्रारोड़ बिलासपुर से प्रकाशित होता था।
  • इसका संपादक > माधव राव सप्रे थे।
  • यह साप्ताहिक समाचार पत्र था।

महाकौशल :-

  • छ.ग. का प्रथम दैनिक समाचार पत्र है।
  • यह 1951 में रायपुर से प्रकाशित होता था।
  • दैनिक संपादक > पं. रविशंकर शुक्ल थे।
  • साप्ताहिक संपादक > अम्बिकाचरण शुक्ल थे।

छत्तीसगढ़ सेवक :-

  • छ.ग. का प्रथम छत्तीसगढ़ी समाचार पत्र है।
  • यह छत्तीसगढ़ी भाषा में प्रकाशित हुआ था।
  • यह 1955 में रायपुर से प्रकाशित होता था।
  • इसका संपादक गजानंद मायव मुक्तिबोध थे।

इंडियन :-

  • छ.ग. का प्रथम अंग्रेजी समाचार पत्र है।
  • इसका संपादक >> मधुकर खेर थे।

बस्तरिया :-

  • छ.ग. का प्रथम हल्बी समाचार पत्र है। (हल्दी भाषा)
  • यह 2 अक्टूबर 1984 में जगदलपुर से प्रकाशित होता था।
  • इसका संपादक >> लाला जगदलपुरी थे।

सिंधुड़ी :-

  • छ.ग. का प्रथम उर्दू समाचार पत्र है।
  • यह रायपुर या बिलासपुर से प्रकाशित होता है।
  • इसका संपादक >> हाजिहसन अली थे।


छत्तीसगढ़ समाचार पत्रों का इतिहास 

क्रवर्ष समाचार पत्रों का नाम संपादक 
1.1900छत्तीसगढ़ मित्रमाधवराव सप्रे
2.1907हिन्द केसरीमाधवराव सप्रे
3.1907सरस्वतीपदुमलाल पुन्ना लाल बख्शी
4.1910राष्ट्रबंधुठाकुर प्यारे लाल सिंह
5.1915सूर्योदयकन्हैया लाल शर्मा
6.1921अरुणोदयठाकुर प्यारे लाल सिंह
7.1922जेल पत्रिकापंडित सुन्दर लाल शर्मा
8.1924काव्यकुंजपंडित रविशंकर शुक्ल
9.1936महाकौशलअम्बिकाचरण शुक्ल
10.1947 छत्तीसगढ़ केसरीदिप चंद्र देगा
11.1951महाकौशलपंडित रविशंकर शुक्ल ( दैनिक )
12.1959दंडकारण्यसतीश बनर्जी
13.1959नई दुनियामायाराम सुरजन
14.1984अमृत सन्देशअब नवभारत के नाम से
15.1984बस्तरियालाला जगदलपुरी
16.1990देश बंधू( पूर्व में नई दुनिया के नाम से )
17.1991दैनिक भास्कररमेश अग्रवाल
18.2001हरी  भूमि……………………….


विविध

  • छत्तीसगढ़ का प्रथम पंजीकृत समाचार पत्र “प्रजा हितैसी” थे । 
  • छत्तीसगढ़ी  भाषा में पत्रकारिता का आरम्भ गजानंद माधव मुक्ति बोध ने किया था . 
  • “हमर मितान” दूध संघ की पत्रिका है . 
  • दंडकारण्य  समाचार पत्र 3 भाषाओ में प्रकाशित होता था । 
  • वर्तमान में सर्वाधिक पाठक दैनिक भास्कर की है ।


जिलों में समाचार पत्र 

राजनांदगाव :-

  • सवेरा संकेत > संपादक > शरद कोठरी 

रायपुर :-

  • मयारुमति > संपादक > गजानंद माधव मुक्ति बोध 
  • छत्तीसगढ़ी सेवक > संपादक > गजानंद माधव मुक्ति बोध 

दुर्ग :-

  • पहल > संपादक >
  • छत्तीसगढ़ी लोक > सम्पादक >
  • भिलाई समाचार पत्र > संपादक >

बिलासपुर :-

  • लोकाक्षर > संपादक >
  • मंडई > संपादक >
  • उतहि > संपादक >

कोरबा :-

  • तरुण छत्तीसगढ़ > संपादक 

रायगढ़ :-

  • शिक्षा दर्पण > संपादक >

अंबिकापुर :-

  • त्रिमण्डल > संपादक >
  • वर्धमान सन्देश > संपादक >

बस्तर :-

  • दण्कारण्य > संपादक > सतीश बनर्जी 
  • बस्तरिया > संपादक > लाला जगदलपुरी 

 

5.सिनेमा:-

छत्तीसगढ़ के प्रथम निर्देशक >> किशोर साहू ( राजनांदगाव )

फिल्म >> नदिया के पर ( पुराना फिल्म )

कहि देबे सन्देश :-

  1. छत्तीसगढ़ की प्रथम फिल्म है 
  2. इसके निर्देशक मानुनायक ( प्रथम ) है ।
  3. इसके गीतकार हेमंत साहू ( प्रथम ) है ।
  4. इसके संगीतकार मलय चक्रवर्ती ( प्रथम ) है ।

घर द्वार :-

  1. छत्तीसगढ़ की दूसरी फिल्म है ।
  2. इसके निर्देशक निरंजन तिवारी है ।
  3. इसके गीतकार हरी ठाकुर , मोहम्मद  रफ़ी है ।

जय माँ बम्लेश्वरी :-

  1. छत्तीसगढ़ की प्रथम वीडियो फिल्म है ।
  2. इसके निर्देशक राजेंद्र तिवारी और श्री चाँद सुंदरानी जी थे ।

मोर छैया भुइया :-

  1. छत्तीसगढ़ की प्रथम रंगीन फिल्म है ।
  2. छत्तीसगढ़ की सबसे सफल फिल्म है ।
  3. इसके निर्देशक सतीश जैन जी है ।

नोट :- छत्तीसगढ़ का पहला इमर्सिव डोम रायपुर में तैयार है , जिसमे 5D में मूवी देख सकेंगे लगत 6 करोड़ , एकसाथ 150 लोग बैठ सकते है ।

इन्हे भी जरूर पढ़े :-

👉छत्तीसगढ़ में शिक्षा स्कूल विश्वविद्यालय 

👉छत्तीसगढ़ में सिनेमा

👉छत्तीसगढ़ वायु परिवहन 

👉छत्तीसगढ़ रेल परिवहन

👉छत्तीसगढ़ में सड़क परिवहन

Leave a Comment