छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान | Chhattisgarh Ke Rashtriya Udhyan

मेरे प्यारे दोस्तों आज हम आपको छत्तीसगढ़ राष्ट्रीय उद्यानकी जानकारी देने वाले है। यहाँ जानकारी आपको छत्तीसगढ़ के किसी भी परीक्षा में पूछे जा सकते है , या आप किसी चीज के बारे में रिसर्च करना चाहते है, या आप फिर छत्तीसगढ़ में घूमना चाहते है तो यहाँ जानकारी आपके बहुत ही काम आएगी। इसलिए आप इस लेख को ध्यान से पढ़े और अपनी राय दे।

 छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान | Chhattisgarh Ke Rashtriya Udhyan

केन्द्र स्तर पर वन्य जीवों के संरक्षण के लिए राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना की जाती |

  • राष्ट्रीय उद्यान वन्य जीवों के संवर्धन के लिए अनुकूल वातावरण उपलब्ध है।
  • राष्ट्रीय उद्यान, आरक्षित वन क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं।
  • वर्तमान में छग. में 3 राष्ट्रीय उद्यान स्थापित है।

 

1.इंद्रावती राष्ट्रीय उद्यान (Indravati National Park)

  • स्थापना- 1978 (छ.ग. का प्रथम राष्ट्रीय उद्यान)
  • स्थान- बीजापुर
  • क्षेत्रणल- 1258 वर्ग किमी कोर क्षेत्र (कुत क्षेत्र 2799 वर्ग किमी)
  • प्रमुख जीव. – बाघ (टाईगर)
  • छ.ग. का एकमात्र कूटरू गेम सेंचुरी (बीजापुर) इसी राष्ट्रीय उद्यान में स्थित है।
  • इस राष्ट्रीय उद्यान के मध्य में इंद्रावती नदी प्रवाहित होती है।
  • राज्य का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान जिसे प्रोजेक्ट टाईगर (1983) घोषित किया गया है।
  • प्रदेश सरकार ने 2009 में यहां टाइगर रिजर्व लागू किया।

2.गुरू घासीदास राष्ट्रीय उद्यान (Guru Ghasidas National Park)

  • स्थापना. -1981
  • पुराना नाम – संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान
  • स्थान. – कोरिया व सूरजपुर
  • क्षेत्रफल. – 1441 वर्ग किमी. (सबसे विस्तृत है)
  • प्रमुख जीव. नीलगाय, बाघ, तेंदुआ, सांमर आदि।
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से छग. का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान।
  • गठन के समय संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के नाम से गठित हुआ था और वर्ष 2000 में संजय गांधी से  गुरू घासीदास कर दिया गया 

3.कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान (Kanger Valley National Park)

  • स्थापना – 22 जुलाई 1982
  • स्थान – बस्तर
  • क्षेत्रफल – 200वर्ग किमो
  • प्रमुख जिव – पहाड़ी मैना उड़ान  गिलहरी
  • यह राज्य का सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान है।
  • इस उद्यान में भैसदारहा नामक स्थान पर प्रकिर्तिक रूप से मगरमच्छ पाए जाते है।
  • वर्ष 1982 में इसे एशिया का पहला बायोस्फियर घोषित किया गया था लेकिन वर्तमान में यह लागु नहीं है।
  • कांगेर घाटी के बीचो बिच कांगेर नदी बहती है इस कारण इसका नाम कांगेर घाटी पड़ा।
  • छग की राजकीय पक्षी पहाड़ी मैना का संरक्षर किया गया है।
  • कांगेर घाटी में उड़ान गिलहरी एवं रिसस  बन्दर पाए जाते है।
  • कांगेर घाटी में कुटुम्ब्सर गुफा स्थित है जिसमे अंधी मछली पाई जाती है। ( मछली का नाम-शंकराइज)

इन्हे जरूर पढ़े :-

👉टाइम्स स्क्वायर ,नया रायपुर

👉चित्रकूट जलप्रपात छत्तीसगढ़

👉घटारानी जलप्रपात छत्तीसगढ़

👉शहीद स्मारक भवन रायपुर

👉दानपुरी झरना जशपुर छत्तीसगढ़

||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||||

दोस्तों हो सकता है की इसमें कुछ गलतिया हो सकती है तो आप नीचे Comment में जरूर बताये , साथ ही साथ आप अपने सुझाव भी हमें दे सकते है। दोस्तों आप हमें Facebook, Youtube, Twitter , Linkedin पर भी फॉलो कर सकते है। 

दोस्तों हमारी इस Website Iamchhattisgarh.in पर अगर आप पहली बार आये है तो मै आपको बता देना चाहूंगा की , हमारी इस वेबसाइट पर आपको छत्तीसगढ़ से सम्बंधित सभी जानकारिया जैसे की छत्तीसगढ़ स्थानों, पर्यटन, मंदिरों, इतिहास, अभिलेखागार स्थानों, नदियों और हर वो जानकारी जो हमारे छत्तीसगढ़ से सम्बंधित हो ।

दोस्तों हम धीरे-धीरे  कोशिश करेंगे की जैसे ही छत्तीसगढ़ का Topic ख़त्म हो जाये तो हम इस में पूरा भारत , विश्व, संविधान , इतिहास  सभी जानकारिया आपके लिए लिखेंगे । जो आगे आपको बहुत काम आएगी । 

आप हमारे इस वेबसाइट पर हर तरह की जानकारियों को काटेगोरिएस वाइज पढ़ सकते है:-

Chhattisgarh Tourism :- इसमें आपको हर वो जानकारी दी जाएगी जहा पर आपको छत्तीसगढ़ में घूमने जरूर जाना चाहिए । इसमें वे सभी स्थल होंगे जहा पर आप अपने छुटियो में अपने परिवार सहित घुमने जरूर जाये ,और दुसरो को भी इन जगहों के बारे में बताये की वे भी घूमने जाये , ताकि हमारे राज्य की  इनकम बढ़ सके । 

Chhattisgarh Temples :- छत्तीसगढ़ के सभी मंदिरो के बारे में जानकारिया आपको इस Category में मिल जाएगी ,पुरे छत्तीसगढ़ के एक-एक मंदिर चाहे वो कोई छोटा से छोटा मंदिर हो या बड़ा से बड़ा हमसे नहीं बच सकता ( मजाक था ) है । 

Chhattisgarh History :- छत्तीसगढ़ के वे अनसुने इतिहास जिसे अपने नहीं पढ़ा या नहीं सुना । इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इसी में मिल जाएगी । 

Chhattisgarh Archelogy :- इसमें हम आपको छत्तीसगढ़ के पुरातत्तव की चीजे , पुराने महल , पुराने अभिलेख, आदि सभी चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिलेगी। 

Chhattisgarh Wildlife: छत्तीसगढ़ के जंगल ,जीव , नदिया , तालाब , जलप्रपात , झील ,अदि सभी प्राकृतिक चीजों की जानकारी आपको इस Category में मिल जाएगी ।  

Leave a Reply