पंचायत की स्थापना से सम्बंधित प्रश्न | Panchayat ki Sthapana se Sambandhit Prashn

Rate this post

पंचायत की स्थापना से सम्बंधित प्रश्न | Panchayat ki Sthapana se Sambandhit Prashn

 पंचायत की स्थापना से सम्बंधित प्रश्नं

प्रश्न : त्रि-स्तरीय पंचायती राज व्यवस्था के तीन स्तर कौन से है?
उत्तर-ग्राम के लिए ग्राम पंचायत,
विकास खण्ड के लिए जनपद पंचायत,
जिला के लिए जिला पंचायत के गठन की व्यवस्था

प्रश्न : पंचायतों के कार्यकाल कितने साल का होता है?
उत्तर-पांच साल का

प्रश्न :पंचायतों का कार्यकाल कब से शुरू माना जाता है?
उत्तर-प्रथम सम्मिलन की तारीख से।

प्रश्न : क्या अधिनियम के विधि अनुसार ग्राम पंचायत को भंग किया जा सकता है?
उत्तर-हाँ।

प्रश्न : किसी पंचायत के भंग होने पर उसका निर्वाचन कब किया जाता है?
उत्तर-भंग होने के छः महीने के भीतर।

प्रश्न : भंग उपरान्त उपचुनाव से निर्वाचित पंचायत का कार्यकाल कितने अवधि का होता है?
उत्तर-कार्यकाल के शेष अवधि के लिए।

प्रश्न : पंचायतों का निगमन क्या है?
उत्तर-पंचायतें विधिक व्यक्ति के समान हैं जिनकी अपनी सामान्य मुद्रा होती है। वे अपने नाम से वाद दायर कर सकते हैं अथवा उसके विरूद्ध मामले चलाए जा सकते हैं तथा ये चल एवं अचल सम्पत्ति अर्जित करने, धारण करने व अंतरित करने का अधिकार रखते हैं।

प्रश्न : एक ग्राम पंचायत में कितने वार्ड होते हैं?
उत्तर-एक ग्राम पंचायत में कम से कम 10 तथा अधिक से अधिक 20 वार्ड होते हैं।

प्रश्न : ग्राम पंचायत किनसे मिलकर बनता है?
उत्तर-ग्राम पंचायत निर्वाचित पंचों तथा सरपंच से मिलकर बनता है।

प्रश्न : पंचायत के किसी वार्ड में पंच का चुनाव नहीं हो पाने से क्या किया जाता है?
उत्तर-छः महीने के भीतर पुनः निर्वाचन की कार्यवाही की जाती है।

प्रश्न : ग्राम पंचायत के सरपंच का निर्वाचन नहीं हो पाता है तो क्या कार्यवाही होगी?
उत्तर-ग्राम पंचायत के प्रथम बैठक में पंच गण अपने में से एक पंच को सरपंच चुनेंगे

प्रश्न : पंचो द्वारा निर्वाचित सरपंच को नये सरपंच के निर्वाचन तक क्या अधिकार होते हैं?
उत्तर-पंचायत के सभी कार्य करने का अधिकार जो एक सामान्य निर्वाचित सरपंच के लिए निर्धारित है।

प्रश्न : अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए वार्डों का आरक्षण के संबंध में क्या प्रावधान है?
उत्तर-अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लिए वार्डों का आरक्षण 50 प्रतिशत से कम होने पर अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 25 प्रतिशत वार्ड आरक्षित किये जा सकेंगे।

प्रश्न : कलेक्टर द्वारा वार्डों का आरक्षण कैसे किया जाता है?
उत्तर--लाट पद्धति के द्वारा चक्रानुक्रम से दो पंचवर्षीय कार्यकाल के लिये।

प्रश्न : यदि किसी वार्ड में आरक्षित वर्ग की आबादी नहीं है तो भी क्या उस वर्ग के लिए आरक्षित रखा जावेगा?
उत्तर-नहीं, उस वर्ग के आरक्षण से वार्ड को मुक्त किया जावेगा।

प्रश्न : कोई व्यक्ति कितने वार्ड में चुनाव के लिये खड़ा हो सकता है?
उत्तर--केवल एक ।

प्रश्न : उपसरपंच पद के लिए उम्मीदवार कौन हो सकता है?
उत्तर--ग्राम पंचायत का कोई भी निर्वाचित पंच

प्रश्न : यदि सरपंच आरक्षित वर्ग के नहीं हैं तो उपसरपंच कौन हो सकेंगे?
उत्तर-अजा/अजजा /अपवि के निर्वाचित पंच।

प्रश्न : नव निर्वाचित सरपंच कब से काम पर उपस्थित माना जाता है?
उत्तर- ग्राम पंचायत के पहली बैठक से।

प्रश्न : नये सरपंच को कार्यभार कब मिलता है?
उत्तर-पुराने सरपंच द्वारा पहली बैठक के दिन।

प्रश्न : पुराने सरपंच द्वारा कार्यभार नहीं सौंपने पर क्या कार्यवाही की जाती है?
उत्तर--दोषी पाये जाने पर वह छः साल के लिए पंचायत चुनाव नहीं लड़ सकेगा।

प्रश्न : ग्राम पंचायत के निर्वाचित प्रतिनिधियों के नामों का प्रकाशन किसके द्वारा किया जाता है?
उत्तर-अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) ।

प्रश्न : ग्राम पंचायत की पहली बैठक कौन बुलाता है?
उत्तर-ग्राम पंचायत का सचिव।

प्रश्न : चुनाव के तुरन्त बाद ग्राम पंचायत की पहली बैठक कब बुलायी जाती है?
उत्तर-– प्रकाशन के 30 दिन के भीतर।

प्रश्न : ग्राम पंचायत में किसके विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया जा सकता है?
उत्तर-सरपंच एवं उपसरपंच के विरूद्ध।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की सूचना किस प्रारूप में दी जाती है?
उत्तर-निर्धारित प्रारूप में।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की सूचना हेतु कितने सदस्यों का दस्तखत जरूरी है?
उत्तर-एक-तिहाई ।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की सूचना किसको दी जाती है?
उत्तर-सरपंच और उपसरपंच के लिए अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व),,
जनपद पंचायत के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए कलेक्टर,,
जिला पंचायत के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए-संचालक, पंचायत

प्रश्न : क्या सरपंच और उपसरपंच के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव हेतु एक ही सूचना दी जा सकती है?
उत्तर- नहीं, दोनों के लिए अलग-अलग सूचना दी जावेगी ।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की सूचना मिलने के कितने दिन बाद सक्षम अधिकारी बैठक बुलाता है?
उत्तर-15 दिन के भीतर।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव के बैठक की सूचना कितने दिन पहले दी जाती है?
उत्तर-सात दिन।

प्रश्न : जिसके विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाया जाता है वह बैठक की अध्यक्षता कर सकता है?
उत्तर-नहीं।

प्रश्न : सरपंच और उपसरपंच के अविश्वास प्रस्ताव के बैठक की अध्यक्षता कौन करता है?
उत्तर-नायब तहसीलदार या समकक्ष अधिकारी।

प्रश्न : जनपद के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के अविश्वास प्रस्ताव के बैठक की अध्यक्षता कौन करता है?
उत्तर-डिप्टी कलेक्टर या समकक्ष अधिकारी।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव के बैठक की अध्यक्षता कौन करेगा?
उत्तर-कलेक्टर/अतिरिक्त कलेक्टर ।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की बैठक में प्रस्तावक सदस्य के अलावा और कौन-कौन बोल सकते हैं?
उत्तर-कोई भी इच्छुक सदस्य तथा जिस पर अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है वह भी बोल सकता है।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की बैठक में मतदान होने पर पक्ष में कैसे चिन्ह लगाते हैं?
उत्तर-पक्ष में सही का चिन्ह लगाते हैं।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव की बैठक में मतदान होने पर विपक्ष में कैसे चिन्ह लगाते हैं?
उत्तर-विपक्ष में गुणा का चिन्ह

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के लिए कितने मत की जरूरत होती है
उत्तर- बैठक में उपस्थित एवं मतदान करने वाले सदस्यों के तीन चौथाई बहुमत से, जो उस समय पंचायत का गठन करने वाले सदस्यों की दो तिहाई से अधिक हो।

प्रश्न : अविश्वास प्रस्ताव कब लाया जा सकता है?
उत्तर-पद ग्रहण करने के एक साल बाद,
कार्यकाल समाप्त होने के छः माह पहले और
यदि पूर्व में अविश्वास प्रस्ताव नामंजूर हुये हैं तो, उसके एक साल बाद।

प्रश्न : सरपंच/उपसरपंच के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव पारित होने पर इसकी विधिमान्यता को कितने दिन के भीतर चुनौती दी जा सकती है?
उत्तर-अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के सात दिन के भीतर कलेक्टर को प्रस्तुत कर।

प्रश्न : जनपद अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव की विधिमान्यता को चुनौती कब तक दिया जा सकता है?
उत्तर-अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के दस दिन के भीतर

प्रश्न : जनपद के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव की विधिमान्यता को चुनौती किसके समक्ष प्रस्तुत दी जा सकती है?
उत्तर-संचालक पंचायत को।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव की विधिमान्यता को चुनौती कितने दिन के भीतर दी जा सकता है?
उत्तर-अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के पंद्रह दिन के भीतर

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव की विधिमान्यता को चुनौती किसके समक्ष दी जा सकती है?
उत्तर-राज्य सरकार को प्रस्तुत कर

प्रश्न : ग्रामसभा द्वारा, ग्राम पंचायत के किन पदधारियों को वापस बुलाया जा सकता है?
उत्तर-ग्राम पंचायत के सरपंच एवं पंच को।

प्रश्न : सरपंच को वापस बुलाने के लिए सूचना हेतु ग्राम सभा के कितने सदस्यों की दस्तखत जरूरी है?
उत्तर-पंचायत की ग्राम सभा के कुल सदस्य संख्या के, कम से कम एक तिहाई सदस्या

प्रश्न : ग्राम पंचायत प्रतिनिधि को वापस बुलाने के लिए सूचना किसको दिया जाता है?
उत्तर-अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व)

प्रश्न : ग्राम सभा के कितने मतों पर, सरपंच या पंच अपने पद से वापस हो जायेंगे ?
उत्तर-यथास्थिति ग्राम सभा के कुल सदस्य संख्या की आधे से अधिक मत।

प्रश्न : पंच/सरपंच जिसके विरूद्ध राईट टू रिकाल पारित हुआ है, वापस बुलाने को कितने दिन के भीतर चुनौती दे सकता है?
उत्तर-सात दिन के भीतर

प्रश्न : पंच/ सरपंच जिसके विरूद्ध राईट टू रिकाल पास हुआ बुलाने को चुनौती किसके समक्ष प्रस्तुत कर सकता है?
उत्तर-कलेक्टर को

प्रश्न : किसी पंच/सरपंच को वापस बुलाने के लिए नियत बैठक में मतदान वापस कैसे होगा ?
उत्तर-गुप्त मतदान द्वारा।

प्रश्न : ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों को कितने समय बाद वापस बुलाया जा सकता है?
उत्तर-आम चुनाव में पदग्रहण उपरांत ढाई साल के बाद एवं उप चुनाव से निर्वाचित प्रतिनिधि के कार्यकाल के आधा समय बीतने के बाद।

प्रश्न : जनपद पंचायत किनसे मिलकर बनता है?
उत्तर-निर्वाचित जनपद पंचायत सदस्य, विधायक एवं जनपद क्षेत्र के सरपंचों के एक पंचमांश (चक्रानुक्रम से एक वर्ष की कालावधि के लिये)

प्रश्न : यदि किसी क्षेत्र में सदस्य का चुनाव नहीं हो पाता है तो अध्यक्ष/उपाध्यक्ष चुनाव का क्या होगा?
उत्तर-अध्यक्ष/उपाध्यक्ष का चुनाव किया जा सकता है। कोई रूकावट नहीं है।

प्रश्न : जनपद पंचायत में औसतन कितने आबादी पर एक निर्वाचन क्षेत्र बनाया जाता है?
उत्तर-5000

प्रश्न : जनपद पंचायत में कुल कितने निर्वाचन क्षेत्र/सदस्य होते हैं?
उत्तर-कम से कम 10 एवं अधिक से अधिक 25

प्रश्न : जनपद पंचायत में अजा एवं अजजा के लिए आरक्षण किस अनुपात में किया जाता है?
उत्तर-जनसंख्या के अनुपात में।

प्रश्न : जनपद पंचायत में अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए कितना स्थान आरक्षित होता है?
उत्तर-अनुसूचित जाति और जनजाति के लिए 50% से कम आरक्षण होने पर अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 25% स्थान आरक्षित किया जाता है।

प्रश्न : जनपद पंचायत में महिलाओं के लिए कितना आरक्षण है?
उत्तर-कुल पदों का 50%

प्रश्न : जनपद पंचायत में आरक्षण कैसे किया जाता है?
उत्तर-दो पंचवर्षीय कार्यकाल के लिए लाट निकालकर चक्रानुक्रम से।

प्रश्न : यदि किसी क्षेत्र में कोई आरक्षित वर्ग की जनसंख्या नहीं है तो क्या किया जाता है?
उत्तर-आरक्षण से मुक्त किया जाता है।

प्रश्न : जनपद पंचायत के अध्यक्ष पद का चुनाव कौन लड़ सकता है?
उत्तर-जनपद पंचायत का निर्वाचित सदस्य।

प्रश्न : अनुसूचित क्षेत्रों में जनपद पंचायत के अध्यक्ष कौन होते हैं?
उत्तर-केवल अनुसूचित जनजाति वर्ग के निर्वाचित सदस्य।

प्रश्न : जनपद पंचायत के अध्यक्ष किन-किन पदों पर नहीं रह सकते?
उत्तर-संसद/राज्य विधान सभा के सदस्य या सहकारी सोसायटी के सभापति/उपसभापति

प्रश्न : जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष के लिए कौन खड़ा हो सकता है?
उत्तर-जनपद पंचायत के निर्वाचित सदस्य ।

प्रश्न :जनपद के अध्यक्ष अनुसूचित जाति/जनजाति/अपिव के हैं तो उपाध्यक्ष कौन होगा?
उत्तर-किसी भी वर्ग का निर्वाचित सदस्य।

प्रश्न :जनपद पंचायत के अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण कौन करता है?
उत्तर-कलेक्टर ।

प्रश्न : जनपद पंचायत के निर्वाचित अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं सदस्यों के नामों के प्रकाशन के लिए कौन अधिकारी अधिकृत है?
उत्तर-संयुक्त संचालक / उपसंचालक पंचायत एवं समाज कल्याण |

प्रश्न : जनपद पंचायत के अध्यक्ष या उपाध्यक्ष के चुनाव में मतदान कौन कर सकता है?
उत्तर-केवल जनपद पंचायत के निर्वाचित सदस्य ।

प्रश्न : जनपद पंचायत के चुनाव बाद पहली बैठक कौन बुलाता है?
उत्तर-जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी।

प्रश्न : चुनाव के बाद जनपद पंचायत की पहली बैठक कितने दिन के भीतर बुलायी जाती है?
उत्तर-30 दिन के भीतर।

प्रश्न : किनसे मिलकर जिला पंचायत बनता है?
उत्तर-जिला पंचायत के निर्वाचित सदस्य, सांसद, विधायक एवं जनपद पंचायत के अध्यक्ष से।

प्रश्न : जिला पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र का विभाजन कितने आबादी पर किया जाता है?
उत्तर-औसतन 50,000 की जनसंख्या पर एक सदस्य निर्वाचन क्षेत्र।

प्रश्न : जिला पंचायत में कितने निर्वाचित सदस्य होते हैं?
उत्तर-कम से कम 10 एवं अधिक से अधिक 35 सदस्य ।

प्रश्न : जिला पंचायत में क्या अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लिए स्थानों का आरक्षण है?
उत्तर-उनकी आबादी के अनुपात में।

प्रश्न : अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए जिला पंचायत में कितने स्थान आरक्षित होते हैं?
उत्तर-अजा एवं अजजा के लिए 50 प्रतिशत से कम स्थान आरक्षित होने पर 25 प्रतिशत स्थान।

प्रश्न : जिला पंचायत में महिलाओं के लिए कितने स्थानों पर आरक्षण होता है?
उत्तर-50% स्थान।

प्रश्न : स्थानों का आरक्षण कैसे किया जाता है?
उत्तर-कलेक्टर के द्वारा लाट निकालकर चक्रानुक्रम से दो पंचवर्षीय कार्यकाल के लिए।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष/उपाध्यक्ष के लिए कौन खड़ा हो सकता है?
उत्तर-जिला पंचायत के निर्वाचित सदस्य।

प्रश्न : अनुसूचित क्षेत्र में जिला पंचायत के अध्यक्ष कौन होता है?
उत्तर-जिला पंचायत के चुने गये अनुसूचित जनजाति के सदस्य ही।

प्रश्न : यदि जिला पंचायत का अध्यक्ष सामान्य वर्ग से हैं तो उपाध्यक्ष किस वर्ग के होंगे?
उत्तर-आरक्षित वर्ग से।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष पद का आरक्षण कैसे एवं किसके द्वारा किया जाता है?
उत्तर-संचालक, पंचायत द्वारा लाट निकालकर, चक्रानुक्रम से दो पंचवर्षीय कार्यकाल के लिए।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष हो जाने पर कोई सदस्य सहकारी सोसायटी का सभापति/उपसभापति ………..।
उत्तर-नहीं रह सकता।

प्रश्न : चुनाव में कोई लिपिकीय गलती या लोप होने पर क्या किया जा सकता है?
उत्तर-लिपिकीय गलती या लोप होने पर उसे ठीक किया जा सकता है।

प्रश्न : जिला पंचायत की पहली बैठक किसके द्वारा बुलायी जाती है?
उत्तर-जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा।

प्रश्न : चुनाव उपरांत जिला पंचायत की पहली बैठक कितने दिन के भीतर बुलायी जाती है?
उत्तर-प्रकाशन के 30 दिन के भीतर।

प्रश्न : पंचायत चुनाव लड़ने या पद पर बने रहने के योग्य कौन नहीं होंगे?
उत्तर-नार्कोटिक्स के उपयोग, विक्रय या उपभोग में किसी अपराध के दोषी होने पर,
पंचायत या शासकीय भूमि/भवन पर बेजा कब्जा करने पर,
वह पदाधिकारी जिसने चुनाव जीतने के एक साल के अंदर अपने घर में शौचालय नहीं बनाया है।

प्रश्न : पंचायत के पदाधिकारी कौन नहीं हो सकते हैं?
उत्तर-30 साल से कम आयु का निरक्षर व्यक्ति,
छः माह के जेल से दण्डित व्यक्ति जिसे जेल छोड़े पाँच साल नहीं हुआ है।,
दिवालिया या मानसिक रूप से बीमार,
जिसकी उम्र 21 साल से कम हो एवं जिसका नाम मतदाता सूची में दर्ज न हो. जो सरकारी नौकरी करता हो.,
पटेल के पद को छोड़कर अन्य लाभ के पद पर हो.,
जिसको पंचायत की कोई भी राशि देना बाकी हो,
किसी भी शासकीय या पंचायत की जगह पर अतिक्रमण किया हो.
नशीली चीजों से संबंधित अपराध का दोषी हो.

प्रश्न : पंचायत पदधारी के बिना अनुमति लगातार कितनी बैठक में भाग नहीं लेने पर कार्यवाही की जा सकती है?
उत्तर-तीन बैठक

प्रश्न : ग्राम पंचायत एवं जनपद पंचायत के पदधारी का बैठक में अनुपस्थित रहने पर कौन अधिकारी दण्डात्मक कार्यवाही कर सकता है?
उत्तर-कलेक्टर |

प्रश्न : जिला पंचायत के पदधारी की बैठक में अनुपस्थित रहने पर कौन अधिकारी कार्यवाही करने हेतु सक्षम है?
उत्तर-संचालक, पंचायत।

प्रश्न : ग्राम पंचायत का पंच अपने पद का त्याग-पत्र किसे देगा?
उत्तर-प्रारूप-क में सरपंच को।

प्रश्न : जनपद पंचायत का सदस्य अपना त्यागपत्र किसे प्रस्तुत करेगा?
उत्तर-प्रारूप-क में जनपद पंचायत के अध्यक्ष को।

प्रश्न : जिला पंचायत के सदस्य अपने पद का त्याग किसे कर सकते हैं?
उत्तर-प्रारूप-क में जिला पंचायत के अध्यक्ष को।

प्रश्न : ग्राम पंचायत का सरपंच अपने पद से त्याग करना चाहें तो किसे आवेदन देगा?
उत्तर-प्रारूप-क में संयुक्त उपसंचालक पंचायत एवं समाज कल्याण को।

प्रश्न : अपने पद का त्याग करने वाले जनपद के अध्यक्ष किसे अपना त्याग पत्र सौंपेंगे?
उत्तर-प्रारूप-क में कलेक्टर/अतिरिक्त कलेक्टर को।

प्रश्न : जिला पंचायत के अध्यक्ष अपने पद का त्याग किसे कर सकेंगे?
उत्तर-त्याग पत्र प्रारूप-क में कलेक्टर को देकर।

प्रश्न : क्या कोई पदधारी त्याग पत्र वापस ले सकता है?
उत्तर-हाँ। त्याग पत्र स्वीकार होने के पहले प्रारूप-ग में।

प्रश्न : पंचायत के पदधारी का त्याग पत्र कैसे स्वीकार किया जाता है?
उत्तर-पंचायत के अगले बैठक में चर्चा कर।

प्रश्न :सरपंच/जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत के अध्यक्ष का त्याग पत्र कितने दिन के भीतर सक्षम अधिकारी के द्वारा स्वीकार किया जाना जरूरी है?
उत्तर- 30 दिन के भीतर।

प्रश्न : ग्राम पंचायत के सरपंच का पद खाली हो जाने पर काम चलाने के लिए क्या व्यवस्था की जाती है?
उत्तर- सचिव 15 दिन के भीतर पंचायत की विशेष बैठक बुलाकर संबंधित वर्ग के पंचों से सरपंच का चुनाव कराता है

प्रश्न : पंचायत के पदाधिकारियों को निलंबित करने का आधार क्या हो सकता है ?
उत्तर-भारतीय दंड संहिता के चिन्हित धाराओं में अपराध कायम होने पर, आरोप विरचित होने पर या पद से हटाने के लिए कारण बताओ सूचना आरोप पत्र जारी होने पर।

प्रश्न :ग्राम पंचायत के पंच, सरपंच, उपसरपंच को कौन निलम्बित कर सकते हैं?
उत्तर- अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व)

प्रश्न :जनपद पंचायत के सदस्य, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष को निलम्बित करने हेतु कौन अधिकारी सक्षम है?
उत्तर- कलेक्टर/अति कलेक्टर।

प्रश्न :जिला पंचायत के सदस्य, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष को निलम्बित करने हेतु कौन अधिकृत है?
उत्तर-कलेक्टर

प्रश्न :क्या सक्षम अधिकारी द्वारा निलंबन आदेश की पुष्टि के लिए राज्य सरकार को प्रकरण भेजी जाती है?
उत्तर- हाँ।

प्रश्न :राज्य सरकार को निलंबन आदेश की पुष्टि कितने दिनों के भीतर करना जरूरी होता है?
उत्तर- 90 दिन के भीतर, अन्यथा निलंबन आदेश प्रभावहीन हो जाता है।

प्रश्न :क्या पंचायत के पदधारियों को पद से हटाया जा सकता है?
उत्तर- हाँ।

प्रश्न :पंचायत के पदधारियों को पद से हटाने हेतु क्या आधार हो सकता है?
उत्तर- भारत के प्रभुता, एकता, अखण्डता या समरसता का अवचारी, भाईचारे की भावना एवं स्त्रियों के सम्मान पर प्रतिकूल प्रभाव एवं कर्त्तव्य निर्वहन में घोर उपेक्षा या गफलत का दोषी पाना।

प्रश्न :किसी पंचायत के पदधारी को पद से हटाने हेतु विहित प्राधिकारी कौन है?
उत्तर- ग्राम पंचायत के लिए–अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व)
जनपद पंचायत के लिए –कलेक्टर/अति. कलेक्टर
जिला पंचायत के लिए–संचालक, पंचायत

प्रश्न :अवचार के कारण किसी पदधारी को पद से हटाने पर वह
उत्तर- अन्य पंचायत का भी सदस्य नहीं रहेगा एवं 6 साल के लिए चुनाव नहीं लड़ सकेगा।

प्रश्न :यदि कोई व्यक्ति एक से अधिक पद के लिए चुनाव जीतता है तो वह कितने पद पर कार्य कर सकता है?
उत्तर- किसी एक पद पर।

प्रश्न :एक से अधिक पद में निर्वाचित व्यक्ति द्वारा किसी एक पद का चयन नहीं करने पर वह किस पद पर माना जावेगा?
उत्तर- क्रमश: जिला पंचायत का सदस्य, जनपद पंचायत का सदस्य, ग्राम पंचायत का सरपंच, ग्राम पंचायत का पंच में से। पद माना जायेगा।

प्रश्न : एक से अधिक पद पर निर्वाचित व्यक्ति किसी पंचायत के बैठक में भाग लेने के बाद क्या चयन करने का हक रखता है?
उत्तर- नहीं, जिस पंचायत के बैठक में भाग लिया है। उसी पंचायत का सदस्य माना जायेगा।

 

😀 😃नीचे में CG vyapam ADEO का पूरा सिलेबस दिया गया है इन्हे भी पढ़े😀 😃 👇

आजीविका

1.अर्थव्यस्था में कृषि की भूमिकाक्लिक करे
2.हरित क्रांतिक्लिक करे
3.कृषि में यंत्रीकरणक्लिक करे
4.कृषि सम्बन्धी महत्वपूर्ण जानकारियाक्लिक करे
5.कृषि सम्बंधित महत्वपूर्ण योजनाएक्लिक करे
6.राज्य के जैविक ब्रांडक्लिक करे
7.शवेत क्रांतिक्लिक करे
8.राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशनक्लिक करे
9.दीनदयाल उपाध्याय राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहानक्लिक करे
10.दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौसल योजनाक्लिक करे
11.आजीविका एवं ग्रामोद्योगक्लिक करे
12.ग्रामोद्योग विकास के लिए छत्तीसगढ़ शासन के प्रयत्नक्लिक करे
13.संस्थागत विकास- Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
15.आजीविका हेतु परियोजना प्रबंध सहकारिता एवं बैंकक्लिक करे
16.राज्य में सहकारिताक्लिक करे
17.सहकारी विपरणक्लिक करे
18.भारत में बैंकिंगक्लिक करे
19.सहकारी बैंको की संरचनाक्लिक करे
20.बाजारक्लिक करे
21.पशु धन उत्पाद तथा प्रबंधक्लिक करे
22.छत्तीसगढ़ में पशु पालनक्लिक करे
23.पशु आहारक्लिक करे
24.पशुओ में रोग-Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
25.मतस्य पालनक्लिक करे

 

ग्रामीण विकास की फ्लैगशिप योजनाओ की जानकारी

1.महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजनाक्लिक करे
2.महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम की विशेषताएंक्लिक करे
3.सुराजी गांव योजनाक्लिक करे
4.स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजनाक्लिक करे
5.इंदिरा आवास योजना-Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
6.प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण)क्लिक करे
7.प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनाक्लिक करे
8.मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजनाक्लिक करे
9.मुख्यमंत्री ग्राम गौरव पथ योजनाक्लिक करे
10.श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशनक्लिक करे
11.अटल खेतिहर मजदूर बीमा योजनाक्लिक करे
12.आम  आदमी बिमा योजनाक्लिक करे
12.स्वच्छ भारत अभियान (ग्रामीण)क्लिक करे
13.सांसद आदर्श ग्राम योजनाक्लिक करे
14.विधायक आदर्श ग्राम योजनाक्लिक करे
17.पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग की योजनाएक्लिक करे
19.निशक्त जनो के लिए योजनाएक्लिक करे
20..सामाजिक अंकेक्षण-Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
21.ग्रामीण विकास योजनाए एवं बैंकक्लिक करे
22.सूचना का अधिकार अधिनियम 2005क्लिक करे
21.जलग्रहण प्रबंधन : उद्देश्य एवं योजनाएक्लिक करे
22.छत्तीसगढ़ में जलग्रहण प्रबंधनक्लिक करे
23.नीरांचल राष्ट्रीय वाटरशेड परियोजनाक्लिक करे

 

पंचायतरी राज व्यवस्था 

1.पंचायती राज व्यवस्थाक्लिक करे
2.73 वाँ संविधान संशोधन अधिनियम 1992 : सार-संक्षेपक्लिक करे
 3.73 वाँ संविधान संशोधन के प्रावधानक्लिक करे
4.छत्तीसगढ़ पंचायत राज अधिनियमक्लिक करे
5.छत्तीसगढ़ में पंचायती राज व्यवस्था से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
6.ग्राम सभा से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
6.अनुसूचित क्षेत्रों में पंचायतों के लिए विशिष्ट उपबंध  से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
7.पंचायत की स्थापना से सम्बंधित प्रश्न -Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
8.पंचायतों के कामकाज -संचालन तथा सम्मिलन की प्रक्रिया से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
10.ग्राम पंचायत के कार्य से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
11.पंचायतों की स्थापना, बजट तथा लेखा से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
12.कराधान और दावों की वसूली से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
13.पंचायतो पर निर्वाचन का संचालन नियंत्रण एवं उपविधियाँ से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
16.शास्तियाँ-Cg Vyapam ADEO Notes | Cg vyapam ADEO Book pdf Downloadक्लिक करे
17.14 वा वित्त आयोग से सम्बंधित प्रश्नक्लिक करे
18.15 वाँ वित्त आयोग क्या थाक्लिक करे

 

Leave a Comment