अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस: छत्तीसगढ़ : प्रदेश की इन बेटियों ने माता-पिता को ही नहीं देश को भी किया गौरांवित

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस : इस खास दिन पर आपको बताते हैं मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़  की उन लड़कियों की सक्सेस स्टोरीके बारे में , जिन्होंने ना सिर्फ अपने परिवार या शहर का नाम रौशन किया, बल्कि इनकी कहानियों ने देश को भी गौरांवित किया.

भोपाल की जागृति अवस्थी ने गाड़े झंडे

हाल ही में संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2020 के लिए टॉपर्स की सूची जारी की थी, जिसमें  भोपाल की जागृति अवस्थी का भी नाम शामिल है. जागृति ने अपनी कड़ी मेहनत और लगन से परीक्षा में शीर्ष रैंक हासिल किया. इसके लिए उन्होंने नौकरी तक छोड़ दी थी. जागृति पहले प्रयास में सफल नहीं हो पाई थीं, लेकिन वो अपने सपने को पाने के लिए लगातार मेहनत करती रहीं. अपनी नौकरी छोड़ी और पूरा ध्यान UPSC CSE की तैयारी में लगा दिया.

जबलपुर की आरना राजपूत ने मैडल्स की लगाई झड़ी

देश की बेटियां हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं. ऐसा ही एक और बेटी हैं जबलपुर की रहने वाली 13 साल की आरना राजपूत, जिन्होंने स्टेट शूटिंग में सात स्वर्ण पदक जीते. आरना का ये सफर साल 2019 में शुरू हुआ. उन्होंने अपने पहले ही प्रदर्शन में कांस्य पदक जीत लिया था. उनकी प्रतिभा को देखते हुए आरना को शूटिंग स्‍पोर्टस ट्रेनिंग एसोसिएशन ऑफ जबलपुर द्वारा विशेष छात्रवृत्ति और विश्व स्तरीय शूटिंग प्रशिक्षण भी प्रदान किया गया.

चार्टड अकाउंटेंट्स (CA) के फाइनल नतीजों में दिखाया कमाल

कुछ समय पहले चार्टड अकाउंटेंट्स (CA) के फाइनल नतीजे सामने आए. इस परीक्षा में मध्य प्रदेश से आने वाली दो लड़कियों ने प्रदेश का नाम रौशन किया. मुरैना की नंदिनी अग्रवाल को पहला रैंक मिला और इंदौर की साक्षी ऑल इंडिया रैंकिंग में दूसरे नंबर पर रहीं. मुरैना के रहने वाली नंदिनी को सोशल मीडिया पर काफी कवरेज मिला था, जिसके बाद उन्हें देशभर से बधाईंया मिलना शुरू हो गई थीं.

रुद्राणी ने पायलट बन भरी उड़ान

धमतरी जिले के एक छोटे से गांव की बेटी रुद्राणी ने अपने कठिन परिश्रम से वो मुकाम हासिल किया, जिसकी कल्पना उनके घरवालों और गांव वालों ने कभी नहीं की थी. रुद्राणी का चयन इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी में हुआ. प्रशिक्षण पूरा कर रुद्राणी पायलट बन जाएंगी. रुद्राणी की सफलता की कहानी न सिर्फ गांव या जिले में बल्कि देशभर में सराही जा रही है.

Leave a Reply