छत्तीसगढ़ में 6 जिलों के कलेक्टर बदले:IAS धावड़े बस्तर आयुक्त, सुनील जैन को स्कूल शिक्षा विभाग; IPS दीपांशु काबरा का भी कद बढ़ा

Rate this post

छत्तीसगढ़ में सरकार ने इस साल की सबसे बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की है। इसमें विभाग-संचालनालय से नगर निगमों तक के प्रशासनिक मुखिया बदल दिए गए हैं। इस फेरबदल से 25 अधिकारी प्रभावित हुए हैं। कोरिया, बलौदाबाजार-भाटापारा, महासमुंद, नारायणपुर, गरियाबंद और गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिलाें के कलेक्टर बदल दिए गए हैं। वहीं वरिष्ठ IPS दीपांशु काबरा का कद बढ़ाया गया है। अभी तक परिवहन विभाग के अपर आयुक्त रहे काबरा अब आयुक्त बना दिए गए हैं।

सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से गुरुवार देर रात जारी आदेश के मुताबिक 2008 बैच के IAS श्यामलाल धावड़े को कोरिया के कलेक्टर पद से हटाकर बस्तर संभाग का आयुक्त बना दिया गया है। धावड़े की जगह पर 2014 बैच के कुलदीप शर्मा को कोरिया कलेक्टर बनाया गया है। कुलदीप अभी कोरबा नगर निगम में आयुक्त की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

2009 बैच के सुनील कुमार जैन को बलौदाबाजार-भाटापारा जिला कलेक्टर से हटाकर स्कूल शिक्षा विभाग का विशेष सचिव बना दिया गया है। अभी तक महासमुंद के कलेक्टर रहे डोमन सिंह को बलौदाबाजार-भाटापारा का जिला कलेक्टर बनाया गया है। कोरिया और बलौदाबाजार में कलेक्टरों के बदले जाने के पीछे क्षेत्रीय विधायकों और कांग्रेस नेताओं की प्रशासन से नाराजगी बताई जा रही है।

नारायणपुर के कलेक्टर रहे धर्मेश कुमार साहू को रायपुर वापस बुला लिया गया है। 2010 बैच के साबू अब संचालक भू-अभिलेख की जिम्मेदारी संभालेंगे। उनके पास शासकीय मुद्रण एवं लेखन सामग्री के संचालक का प्रभार भी होगा। उनकी जगह पर 2014 बैच के ऋतुराज रघुवंशी को नारायणपुर कलेक्टर बनाया जा रहा है।

रघुवंशी अभी तक रायपुर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी थे। 2011 बैच के नीलेशकुमार महादेव क्षीरसागर को गरियाबंद से हटाकर महासमुंद का कलेक्टर बना दिया गया है। गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही की कलेक्टर रहीं 2013 बैच की नम्रता गांधी अब गरियाबंद संभालेंगी। अब ऋचा प्रकाश चौधरी गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले की नई कलेक्टर होंगी। 2014 बैच की ऋचा अभी तक बस्तर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी थीं।

सैंडल कांड से विवादों में आए IAS बस्तर भेजे गए
मुंगेली जिला पंचायत में महिला जिला पंचायत सदस्य के साथ विवाद के बाद सुर्खियों में आए IAS को बस्तर भेज दिया गया है। मुंगेली में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रहे रोहित व्यास 2017 बैच के अधिकारी हैं। पिछले महीने जिला पंचायत की एक महिला सदस्य ने आपसी नोकझोंक के बाद अफसर को मारने के लिए सैंडल निकाल लिया था। इसके बाद यहां प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के बीच तनाव बना हुआ था।

इन जिला पंचायतों में भी CEO बदले गए
कबीरधाम जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रहे विजय दयाराम के. हटा दिए गए हैं। उनकी जगह पर राज्य प्रशासनिक सेवा के संदीप कुमार अग्रवाल को भेजा जा रहा है। संदीप अभी तक गरियाबंद जिला पंचायत के CEO थे। मंत्रालय में उप सचिव रहे दशरथ सिंह राजपूत को मुंगेली और रोक्तिमा यादव को गरियाबंद जिला पंचायत का CEO बनाया गया है।

दो नगर निगमों के आयुक्त भी बदले गए
IAS विजय दयाराम के. को अम्बिकापुर नगर निगम का आयुक्त बनाया गया है। वहीं अम्बिकापुर नगर निगम के आयुक्त रहे राज्य प्रशासनिक सेवा के प्रभाकर पाण्डेय अब कोरबा नगर निगम के आयुक्त की जिम्मेदारी संभालेंगे। कोरबा में वे कुलदीप शर्मा की जगह लेंगे जिन्हें कोरिया का कलेक्टर बना दिया गया है।

इन अफसरों का भी तबादला हुआ
भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एस. प्रकाश को जल जीवन मिशन से हटाकर परिवहन विभाग का सचिव बनाया गया है। वहीं टोपेश्वर वर्मा को परिवहन सचिव और परिवहन आयुक्त की अतिरिक्त जिम्मेदारियों से मुक्त कर जल जीवन मिशन भी सौंप दिया गया है। संचालक भू-अभिलेख की जिम्मेदारी संभाल रहे अभिजीत सिंह को स्मार्ट सिटी रायपुर का MD बनाया गया है। उनके पास रायपुर विकास प्राधिकरण के CEO और गृह विभाग में संयुक्त सचिव की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी होगी।

इन अफसरों की जिम्मेदारियां बदली गईं
भारतीय वन सेवा के अफसर अनिल साहू को छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल का MD बनाया गया है। डॉ. कमलप्रीत सिंह को आयुक्त लोक शिक्षण की जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया गया है। वहीं किरण कौशल को संचालक खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति की जिम्मेदारी से हटाकर राजस्व सेवा के अफसर अभिनव अग्रवाल को वहां लाया गया है। किरण कौशल अब केवल मार्कफेड के MD की जिम्मेदारी देखेंगी।

Leave a Reply