छत्तीसगढ़ के कुल 33 जिलों का इतिहास | Chhattisgarh ke kul 33 jile ke itihas

4/5 - (1vote)

छत्तीसगढ़ के कुल 33 जिलों का इतिहास | Chhattisgarh ke kul 33 jilo ke itihas

भारत का 26वा राज्य छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना 1 नवंबर 2000 को की गई थी तब इसकी राजधानी रायपुर थी लेकिन वर्तमान में इसकी राजधानी नवा रायपुर है। छत्तीसगढ़ राज्य का भौगोलिक विस्तार 17°46′ से 24°5′ उत्तरी अक्षांश तक है तथा 80°15′ पूर्वी देशांतर से 84°24′ पूर्वी देशांतर तक है। राज्य के तीन जिले कोरिया, सूरजपुर और बलरामपुर से कर्क रेखा होकर गुजरती है।

22 साल में 17 नए जिले

छत्तीसगढ़ जब मध्य प्रदेश से अलग होकर नया राज्य बना था तब इसमें 16 जिले हुआ करते थे लेकिन वर्तमान समय में छत्तीसगढ़ में 33 जिले हैं।

रायपुर और बिलासपुर जिन्हे वर्ष 1861 में बनाया गया वर्ष 1906 में रायपुर जिले से अलग होकर जिला दुर्ग 01 जनवरी 1948 को तीन नए जिले रायगढ़ , बस्तर, और सरगुजा इस प्रकार छत्तीसगढ़ में जिलों की संख्या 06 हुई। वर्ष 1973 में दुर्ग जिले से अलग होकर एक नया जिला राजनांदगांव जिला बनाया गया वर्ष 1973 तक त्तीसगढ़ में 07 जिले थे।

वर्ष 1998 में दो बार जिलों का गठन किया गया एक बार मई 1998 में जिसमे वर्तमान छत्तीसगढ़ के 08 नए जिले बनाए गए कोरिया, सरगुजा जिले से अलग होकर तथा जशपुर रायगढ़ जिले से अलग होकर, कोरबा और जांगीर चांपा बिलासपुर जिले से अलग होकर तथा महासमुंद और धमतरी रायपुर जिले से अलग होकर तथा कांकेर, और दंतेवाड़ा को बस्तर जिले से अलग करके बनाया गया।

छत्तीसगढ़ में जिलों की संख्या 15 हो गई। इसके पश्चात जुलाई 1998 में कवर्धा : (कबीरधाम) को बिलासपुर और  राजनांदगांव से अलग करके बनाया यह पहला जिला था जिसे दो जिलों (राजनांदगांव और बिलासपुर ) से अलग करके बनाया गया । राज्य पुनर्गठन के समय छत्तीसगढ़ में जिलों की संख्या 16 हुई थी। इसके बाद वर्ष 2007 खैरागढ़ में बीजापुर जिले को दांतेवाड़ा से अलग करके तथा नारायणपुर जिले को बस्तर से अलग करके बनाया गया इस प्रकार जिलों की संख्या 18 हो गई।

जनवरी 2012 में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने 09 नए जिले बनाए जिलों की संख्या 27 हो गई। पिछले लगभग चार सालों के दौरान 6 नये जिले, 85 नयी तहसीलें कई अनुविभाग और उपतहसीलों का गठन किया जा चुका 10 फरवरी 2020 को बिलासपुर जिले से अलग गोरेला पेंड्रा मरवाही जिला बना जिसका मुख्यालय गौरेला में है कुल 28 जिलें हो गई।

15 अगस्त 2021 को 04 नए जिले बनाए गए। सक्ती जांजगीर चांपा सजिल, 2 सितंबर को मोहला मानपुर अंबागढ़ चौकी जिले राजनांदगांव जिले से का सबसे पहले शुभारंभ जिसके बाद 3 सितंबर को सारंगढ़ बिलाईगढ़ को रायगढ़ और बालोदाबाजार से और खैरागढ़- छुईखदान – गंडई 17 अप्रैल 2022 को नये जले बने और जिलों की संख्या तक जा पहुंची. 9 सितंबर को मनेंद्रगढ़-चिरमिरी- भरतपुर को कोरिया से बनाया गया।

सबसे ज्यादा और कम जनसंख्या वाला जिला का नाम

छत्तीसगढ़ राज्य की कुल जनसंख्या बर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार 25545198 है जो की पूरे भारत की कुल जन की 2.11 प्रतिशत है कुल पुरषों की जनसंख्या 12830336 तथा महिला आबादी 12714862 है राज्य का सबसे अधिक जनसंख्या वाला जिला रायपुर 4063872 तथा सबसे कम जनबाला जिला नारायणपुर 139820 है।

सबसे अधिक / कम साक्षरता वाले

छत्तीसगढ़ की औसत साक्षरता दर 70.28 प्रतिशत है जिसमे से 80.29 प्रतिशत पुरुष साक्षरता तथा 60.25 प्रतिशत महिला साक्षरता दर है। सबसे अधिक साक्षरता बाला जिला दुर्ग 79.06 प्रतिशत तथा सबसे कम साक्षरता बाला जिला बीजापुर 40.86 प्रतिशत है।

सबसे अधिक और कम लिंगानुपात वाले जिले

छत्तीसगढ़ राज्य का कुल लिंगानुपात 991 है तथा सबसे ज्यादा लिंगानुपात बाला जिला बस्तर तथा सबसे कम लिंगानुपात बाला जिला कोरिया है बस्तर का लिंगानुपात 1023 है तथा कोरिया का लिंगानुपात 968 है।

सबसे ज्यादा कम जन घनत्व वाले जिले

छत्तीसगढ़ का कुल जन घनत्व 189 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है सबसे कम जन घनत्व (30 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर) नारायणपुर जिले में तथा सबसे ज्यादा जन घनत्व ( 420 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर) जांजगीर चांपा जिले का है।

छत्तीसगढ़ के सबसे अधिक / कम क्षेत्रफल वाले जिलों छत्तीसगढ़ राज्य का कुल क्षेत्रफल 135192 वर्ग किलोमीटर है राज्य का सबसे अधिक क्षेत्रफल बाला जिला राजनांदगांव और सबसे कम क्षेत्रफल बाला जिला दुर्ग है राजनांदगांव जिले का कुल क्षेत्रफल 8022.55 वर्ग किलोमीटर तथा दुर्ग जिले का क्षेत्रफल 2718.62 वर्ग किलोमीटर है।

नए जिले मातृ जिले /जिनसे अलग हुए
कोंडागांव  बस्तर
सुकमा दांतेवाड़ा
बलोदा बाजार  रायपुर
गरियाबंद,  रायपुर
बालोद दुर्ग
बेमेतरा दुर्ग
मुंगेली बिलासपुर
बलरामपुर सरगुजा
सूरजपुर सरगुजा

छत्तीसगढ़ के 33 जिलों के नाम और उनके संभाग

संभाग जिलों के नाम
रायपुर रायपुर, बलोदाबाजा, गरियाबंद,धमतरी, महासमुंद (5)
बिलासपुर बिलासपुर, मुंगेली, कोरबा, जांजगीर ,चांपा, रायगढ़, गौरेला-पेंड्रा मरवाही, सक्ति, सारंगगढ़- भिलाईगढ़,(8)
बस्तर बस्तर, दंतेवाड़ा, कांकेर, सुकमा, नारायणपुर, बीजापुर, कोंडागांव (7)
सरगुजा, सरगुजा, सूरजपुर, बलरामपुर, कोरिया, जशपुर, भरतपुर-मन्नेद्रगढ़ ,सरगुजा ,चिरमिरी (6)
दुर्ग  दुर्ग, राजनांदगांव, बालोद, बेमेतरा,कबीरधाम, मोहला-मानपुर-चौकी, खेरागढ़ छुईखदान- गड़ई (7)

छत्तीसगढ़ के जिलों से सीमा साझा वाले राज्यों के नाम

छत्तीसगढ़ के जिले कुल 07 राज्यों के साथ सीमा साझा करते है उड़ीसा, तेलंगाना, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश इसके अलावा छत्तीसगढ़ के 10 जिले पूर्णतः आंतरिक जिले है सरगुजा, कोरवा, जांजगीर चांपा, बिलासपुर, रायपुर, बलोदाबाजार, बेमेतरा, दुर्ग, बालोद और दंतेवाड़ा, जिला आदि

क्र राज्य कितने जिले जिलों के नाम
01 उड़ीसा 8 बस्तर, गरियाबंद, धमतरी, रायगढ़, जशपुर, कोंडागांव,सुकमा, महासमुंद
02 तेलंगाना 2 सुकमा, बीजापुर
03 आंध्र प्रदेश 1 सुकमा
04 मध्य प्रदेश 7 कबीरधाम, सूरजपुर, गौरेला- पेंड्रा मरवाही, राजनांदगांव, कोरिया, बलरामपुर, मुंगेली
05 उत्तर प्रदेश 1 बलरामपुर
06 झारखंड 2 बलरामपुर, जशपुर
07 महाराष्ट्र 4 नारायणपुर, बीज राजनांदगांव

 

Leave a Comment