बिलासपुर: अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी फैल रहा कोरोना, एक साथ कई गांव के लोग मिले पॉजिटिव, 24 घंटे में 378 नए केस, हफ्तेभर में 2744 मरीज मिले

Rate this post

बिलासपुर में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। शुक्रवार को एक ही दिन में 378 नए मरीज मिले हैं। इसके साथ ही एक्टिव मरीजों की संख्या 2400 पहुंच गई है। रेलवे कॉलोनी में 11, सनसिटी में 11 और राजेंद्र नगर में एक साथ 6 लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हुए हैं।

शहर में कोरोना का संक्रमण कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। बैंक, अस्पताल, शिक्षण संस्थाओं के बच्चों के साथ ही कॉलोनी में लगातार एक साथ कई लोग संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। ऐसे में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने भी हाथ खींच लिया है। स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन भले ही कोरोना नियंत्रण का दावा कर रहा है। लेकिन, जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। न तो माइक्रो कंटेनमेंट जोन में नियमों का पालन हो रहा है और न ही संक्रमण से निपटने के लिए जिम्मेदार अधिकारी इसके लिए सजग हैं। यही वजह है कि अब एक साथ 10 से 12 लोग संक्रमण के शिकार हो रहे हैं।
अपोलो अस्पताल में रोज मिल रहे 4 से 5 मरीज
अपोलो अस्पताल में लगातार कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। इसमें उनके स्टाफ भी शामिल हैं। स्थिति यह है कि यहां अब तक 100 से अधिक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। शुक्रवार को भी अस्पताल में पांच कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।
कैनरा बैंक के दो कर्मचारी मिले पॉजिटिव
शुक्रवार को पुराना हाईकोर्ट स्थित कैनरा बैंक के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। एक दिन पहले तक दोनों कर्मचारी बैंक में ड्यूटी पर थे। कोरोना के लक्षण मिलने पर उन्होंने जांच कराया तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब उनका होम आइसोलेशन में उपचार चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके संपर्क में आने वालों की तलाश कर रही है।
प्रयास एकेडमी हॉस्टल और CIMS हॉस्टल में मिले संक्रमित
प्रयास एकेडमी हॉस्टल के दो स्टुडेंट कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। दोनों स्टुडेंट में कोरोना के लक्षण थे और उनकी तबीयत खराब थी। जांच कराने के बाद उनका रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई। इसी तरह CIMS के सीनियर हॉस्टल के दो मेडिकल छात्र कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। अब उनके संपर्क में आने वालों की भी जांच की जाएगी।
कागजों में बांटी जिम्मेदारी
कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने कोरोना नियंत्रण व बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ अन्य विभागों के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। लेकिन, अफसर अपने ऑफिस में बैठकर ही स्थिति नियंत्रित करने का दावा कर रहे हैं। न तो अफसर माइक्रो कंटेनमेंट जोन का ध्यान रख रहे हैं और न ही गाइडलाइन का पालन कराने के लिए रूचि ले रहे हैं।
8 मरीज अस्पताल से हुए डिस्चार्ज, 437 होम आइसोलेशन से आए बाहर
शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के शिकार अस्पताल में भर्ती 8 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। इसी तरह होम आइसोलेशन में इलाज कराने वाले 437 मरीजों ने क्वारेंटाइन पीरियड पूरा कर लिया है। इसके बाद अब एक्टिव केस 2400 पर है।
गांवों में फैल रहा संक्रमण, एक साथ कई गांव के लोग पॉजिटिव
शहर के साथ ही अब ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हालांकि, सर्दी, बुखार जैसे कोरोना के लक्षण मिलने के बाद भी ग्रामीण क्षेत्र में ज्यादा टेस्टिंग नहीं हो रही है। फिर भी मौजूदा स्थिति में ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण बढ़ता जा रहा है। कई गांवों में ग्रामीण एक साथ संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। शुक्रवार को ग्राम काठाकोनी, रिस्दा, पेंडरवा, नरगोड़ा, धनिया, संकरा, मल्हार, मेंड्रा, रानीगांव नवागांव, खैरखुंडी सहित अन्य गांव में एक साथ कई मरीजों की पहचान की गई है।

हफ्तेभर में 2744 मरीज मिले
8 जनवरी – 369
9 जनवरी – 323
10 जनवरी – 441
11 जनवरी – 386
12 जनवरी – 412
13 जनवरी – 435
14 जनवरी – 378

Leave a Reply