विण्डोज ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है Windows Operating System kya hai

Rate this post

विण्डोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम ग्राफ़िकल यूज़र इण्टरफेस (Graphical User Interface-GUI) पर किए गए शोध कार्यों का परिणाम है। वर्ष 1980 के बाद के दशक के प्रारम्भ में मैसर्स ज़ेरॉक्स कॉर्पोरेशन द्वारा इस विषय पर शोध किया गया था। शोध कार्य से यह सिद्ध हुआ कि हाथ में पकड़े जाने वाले किसी संकेतक साधन; जैसे- माउस द्वारा इमेजों के माध्यम से कम्प्यूटर के साथ संवाद करना कही अधिक सरल है।

इस कम्पनी ने इस सुविधा के साथ सबसे पहले ज़ेरॉक्स स्टार (Xerox Star) नामक कम्प्यूटर का विकास किया, लेकिन ग्राफ़िकल यूज़र इण्टरफेस को वास्तविक लोकप्रियता एप्पल कम्प्यूटर्स द्वारा बाजार में उतारे गए मैकिन्तोश (Macintosh) कम्प्यूटर द्वारा प्राप्त हुई। इसमें मैक (MAC) नामक एक सम्पूर्ण ऑपरेटिंग सिस्टम था, जो ग्राफिकल यूज़र इण्टरफेस पर आधारित था। यद्यपि यह गति के मामले में बहुत धीमा था, लेकिन व्यावसायिक दृष्टि से बहुत सफल रहा।

मैक की सफलता को देखकर माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन ने भी ग्राफिकल यूजर इण्टरफेस पर आधारित अपने ऑपरेटिंग सिस्टम का विकास किया, जिसके परिणामस्वरूप विण्डोज़ प्रकाश में आया। इसका संस्करण विण्डोज़ 3.0 प्रारम्भिक पर्सनल कम्प्यूटरों पर बहुत सफल रहा।

बाद में . इसके कई संस्करण प्रकाश में आए। 1980 के दशक के उत्तरार्द्ध (later half) में विण्डोज़ सबसे अधिक लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम बन गया था। यह आई.बी.एम. कम्पनी द्वारा आधिकारिक रूप से स्वीकृत एवं उपयोग किया गया था।

माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स तथा पॉल एलेन हैं। विश्व के लगभग 90% पर्सनल कम्प्यूटर में माइक्रोसॉफ्ट विण्डोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम उपयोग हो रहा है। यह Graphical User Interface (GUI), मल्टी-टास्किंग, वर्चुअल मैमोरी की सुविधा देता है।

Leave a Comment