जड़त्वीय निर्देश तंत्र ( frame of reference ) क्या होता है?

Rate this post

न्यूटन के गति के पहले नियम अनुसार, कोई भी वस्तु जिस पर कोई बल ना लगा हो, वह एक स्थिर गति से चलती है।

स्थिर गति से चलने वाले किसी भी प्रेक्षक पर कोई बल नहीं होता। ऐसे प्रेक्षक को जड़त्वीय प्रेक्षक कहा जाता है।

अगर वह अंतराल-समय नापने के लिये कोई उपकरण इस्तेमाल करता है तो उसका निर्देश तंत्र जड़त्वीय निर्देश तंत्र कहलाता है।

Leave a Reply